NRC-CAA के खिलाफ 6 दिन से धरने पर बैठी हजारों महिलाएं, शहर काजी बोले- कोटा की बेटियां लिखने जा रही इतिहास

NRC, CAA Law, NRC protest, Women protest in kota : एनआरसी और सीएए कानून के खिलाफ कोटा में 6 दिन से धरने पर बैठी हजारों महिलाओं के जज्बे को शहर काजी ने सलाम किया।

 

Zuber Khan

January, 2001:53 AM

किशोरपुरा ईदगाह पर आयते करीमा व दुआ कार्यक्रम हुआ
कोटा. नागरिकता संशोधन काऩून, एनआरसी और एनपीआर को वापस लेने की मांग को लेकर किशोरपुरा में पिछले 6 दिनों से धरने पर बैठीं महिलाओं ने रविवार को कहा, महिलाओं के हितों को पूरा करने का दंभ भरने वाली मोदी सरकार हमारी सुध क्यों नहीं ले रही है। धरना आयोजक शिफा खा़लिद ने कहा, जनप्रतिनिधियों को उनकी समस्याओं को केन्द्र सरकार तक पंहुचाना चाहिए।

Read More: NRC-CAA के खिलाफ कोटा की सड़कों पर उतरा मुस्लिम समाज, जुलूस में उमड़ा जनसैलाब, चप्पे-चप्पे पर तैनात पुलिस

धरने को समर्थन देने कोटा शहर काजी अनवार अहमद भी पहुंचे। उन्होंने धरने पर बैठी महिलाओं के हौंसले और जज्बे को सलाम करते हुए कहा, कोटा की महिलाएं इतिहास लिखने जा रही हैं। उन्होंने कहा कि तीन तलाक पर मुस्लिम महिलाओं की हितेषी बनने वाली सरकार देशभर में इतनी सर्दी में धरने पर बैठी महिलाओं की सुनवाई क्यों नहीं कर रही है।

Read More: राजस्थान तक पहुंची NRC की आंच: बूंदी की सड़कों पर उतरा जनसैलाब, आक्रोश रैली निकाल किया CAA कानून का विरोध

एडवोकेट मोहनलाल राव ने कहा, किसी भी नागरिक से नागरिकता साबित करने की बात कहना अपमानजनक है। सरकार को एनआरसी और एनपीआर को रद्द करना चाहिए। धरने में इमरान मांगरोली और रियाज तारिक ने देशप्रेम पर कविताएं पढ़ीं। उधर, मखदूम अलाउल हक फ ाउंडेशन ऑफ राजस्थान की ओर से मुनाजात दुआ प्रोग्राम ईदगाह किशोरपुरा में हुआ। मौलाना अलाउद्दीन अशरफ ी ने बताया कि संविधान बचाने की इस मुहिम में सब मिलकर संघर्ष कर रहे हैं।

CAA
Show More
​Zuber Khan Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned