स्मार्ट सिटी कोटा में सड़कों पर घूमते मवेशी बने यमदूत

कोटा. शहर की सड़कों पर घूम रहे आवारा मवेशी अकाल मौत का सबब बन रहे हैं। गुरुवार रात चम्बल औद्योगिक क्षेत्र में थेगड़ा रोड पर दो बाइक सवार युवक आवारा मवेशियों से टकराकर घायल हो गए। अस्पताल में उपचार के दौरान एक की मौत हो गई।

By: Deepak Sharma

Published: 31 Jul 2020, 06:40 PM IST

कोटा. शहर की सड़कों पर घूम रहे आवारा मवेशी अकाल मौत का सबब बन रहे हैं। गुरुवार रात चम्बल औद्योगिक क्षेत्र में थेगड़ा रोड पर दो बाइक सवार युवक आवारा मवेशियों से टकराकर घायल हो गए। अस्पताल में उपचार के दौरान एक की मौत हो गई।

सूरसागर कॉलोनी निवासी महावीर मेघवाल ने बताया कि शक्ति (17) अपने दोस्त भुवनेश (18) के साथ बाइक से छावनी की ओर जा रहे थे। मारुति वर्कशॉप के पास नाले की पुलिया पर खड़ी गायों से उनकी बाइक टकरा गई और दोनों घायल हो गए। घायलों की सूचना पर पहुंचे दोस्तों ने दोनों को एमबीएस अस्पताल में भर्ती कराया, जहां देर रात 1.30 बजे उपचार के दौरान बाइक चालक शक्ति की मौत हो गई। भुवनेश को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई। हादसे से भुवनेश इतना घबराया हुआ था कि घर आने के बाद भी वह घटना के बारे में कुछ नहीं बता पा रहा। पुलिस ने शुक्रवार दोपहर पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया।

शक्ति पर ही थी घर की जिम्मेदारी

पड़ोसियों ने बताया कि शक्ति के पिताजी की पहले ही मौत हो चुकी। छह भाई बहिनों में शक्ति दूसरे नम्बर का था। बड़ा भाई बाहर काम करता है। शक्ति डीजे चलाने का काम करता था और घर की जिम्मेदारी भी वहीं निभा रहा था। अचानक जवान बेटे की मौत के बाद परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा।

नगर निगम की लापरवाही
महावीर मेघवाल ने बताया थेगड़ा रोड पर नाले में पशुपालकों ने अतिक्रमण कर पक्का मकान व बाड़ा बना रखा है। वह अपने मवेशी सड़क पर खुले छोड़कर रखता है। इसके चलते आए दिन शहर में दुर्घटनाएं हो रही है। उन्होंने नगर निगम के अधिकारियों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा कि आवारा मवेशियों को पकडऩे की केवल कागजी खानापूर्ति के अलावा कुछ नहीं हो रहा।

Deepak Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned