योजनाओं के फेर में फंसे बिजली के कनेक्शन, 1700 से अधिक कनेक्शन लम्बित

योजनाओं के फेर में फंसे बिजली के कनेक्शन, 1700 से अधिक कनेक्शन लम्बित

Kamlesh Meena | Publish: Jul, 16 2018 11:29:46 AM (IST) Kuchaman City, Rajasthan, India

विभाग के दावों की खुल रही पोल

कुचामनसिटी. कभी राज्य सरकार तो कभी केन्द्र सरकार की ओर से गांव-गांव में बिजली पहुंचाने के लिए बड़े-बड़े दावे किए जा रहे है, लेकिन हकीकत यह भी है कि बार-बार योजनाओं में बदलाव होने के कारण कई आवेदन अभी भी विभाग में धूल फांक रहे हैं। निगम के कार्यालय में अभी भी सैकड़ों आवेदन योजनाओं के फेर में इधर-उधर घूम रहे हैं। बिजली कनेक्शन को लेकर लोग निगम के अधिकारियों से कनेक्शन करवाने की मांग करते हैं, लेकिन उन्हें एक ही जबाब दिया जाता है कि हो जाएगा कनेक्शन। अधिकारियों की ओर से कभी कनेक्शन के लिए सामग्री नहीं होना तो कभी योजना में बदलाव होने का बहाना लिया जाता है।

योजना के बदलने से दब जाती है फाइलें
बिजली कनेक्शन के लिए सरकार की कोई भी योजना आती है तो लोगों की ओर से आवेदन किया जाता है। जब बिजली के कनेक्शन करने का समय आता है तो फिर कोई नई योजना आ जाती है। ऐसे में पूर्व में किए गए आवेदन फाइलें बन कर दब जाती है। लोगों को दुबारा आवेदन करने पर मेहनत के साथ दुबारा फाइल चार्ज भी देना पड़ता है।

1700 से अधिक फाइलों के कनेक्शन पेंडिंग
लम्बे समय पूर्व बिजली कनेक्शन के लिए पं. दीनदयाल उपाध्याय घरेलू कनेक्शन योजना संचालित हुई थी। जिसमें लोगों ने डिमांड स्वरूप दस हजार रुपए देकर आवेदन कर दिए। कुछ दिनों बाद योजना में बदलाव हो गया। इस योजना के तहत आए हुए आवेदनों का पूरा काम हुआ ही नहीं कि प्रधानमंत्री घरेलू योजना आ गई। ग्राम पंचायतों में आयोजित शिविरों में इस योजना के तहत 500 रुपए लेकर आवेदन मांगे गए। अधिकारियों ने इस योजना के नाम पर दिए गए लक्ष्य की पूर्ति करने के लिए बड़ी संख्या में आवेदन ले लिए। अब यह भी आवेदन फाइल बन कर घूम रहे हैं। निगम के पास अब १७०० से अधिक आवेदन जमा है, जो कनेक्शन किए जाने हैं।

शीघ्र ही जारी करेंगे कनेक्शन
पं. दीनदयाल उपाध्याय घरेलू कनेक्शन योजना का कार्य नागौर से किया जा रहा है। इस योजना का कार्य अंतिम चरण में है। शिविरों में लिए गए आवेदनों के कनेक्शन शीघ्र ही जारी करेंगे।
- विनय कुमावत वियोगी, सहायक अभियन्ता, विद्युत निगम, कुचामनसिटी

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned