अतिक्रमण पर चला बुलडोजर, मालिकाना हक जताते हुए महिलाओं ने किया विरोध

अतिक्रमण पर चला बुलडोजर, मालिकाना हक जताते हुए महिलाओं ने किया विरोध

Kamlesh Meena | Publish: Apr, 11 2018 11:55:35 AM (IST) Kuchaman City, Rajasthan, India

पुलिस की सहायता से जमीन को कराया मुक्त, आईबीडीएस योजना के तहत जीएसएस निर्माण का मामला

कुचामनसिटी. शहर की मोतीरामजी की कोठी क्षेत्र में आईबीडीएस योजना के तहत जीएसएस निर्माण के लिए जमीन चिह्नित करने पहुंचे प्रशासन व पुलिस ने जमीन को अतिक्रमियों से मुक्त कराया। हालांकि इस दौरान जमीन पर अपना मालिकाना हक जताते हुए महिलाओं ने विरोध प्रदर्शन किया। एक महिला विरोध जताते हुए बुलडोजर के आगे बैठ गई, जिसे समझाइश के बाद हटाया गया। विद्युत निगम के सहायक अभियन्ता ने बताया कि योजना के तहत 33 केवी जीएसएस निर्माण पिछले एक वर्ष से प्रस्तावित है। जीएसएस का निर्माण हो इसके लिए उपखण्ड अधिकारी व नगरपालिका ईओ को जमीन देने के लिए विभाग की ओर से कहा गया। उपखण्ड अधिकारी रामसुख गुर्जर, तहसीलदार महावीरप्रसाद शर्मा, विद्युत निगम के सहायक अभियन्ता आर.के.शर्मा, पालिका अधिशासी अधिकारी राकेश शर्मा, पालिका कनिष्ठ अभियंता अनिल सैनी मोतीरामजी कोठी पहुंचे। जहां पर जीएसएस के लिए पालिका की ओर से चिह्नित की गई जमीन पर अपना हक बताते हुए महिलाओं ने विरोध शुरू कर दिया। पालिका प्रशासन की ओर से लाए गए बुलडोजर के सामने खड़े होकर महिलाओं ने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। मौके पर मौजूद अधिकारियों ने इस संबंध में पुलिस को सूचित करने के बाद सहायक पुलिस उपनिरीक्षक सहित पुलिस टीम मौके पर पहुंची व समझाइश के साथ जमीन को अतिक्रमियों से मुक्त कराया। जमीन पर मालिकाना हक बता कर विरोध कर रहे लोगों ने मौके पर मौजूद उपखण्ड अधिकारी को कहा कि जमीन हमारी है इसे साबित करने के लिए आप एक दिन का समय दे दे। जमीन जुगल, भागीरथ, दुलिचंद व गोपाल चार भाइयों के नाम से है। जमीन के मालिकाना हक से संबधित कागज जिस भाई के पास है वो जयपुर है। कल आकर आपकों कागज दिखा देंगे। इस पर उपखण्ड अधिकारी रामसुख गुर्जर ने कहा कि कागज है तो जमीन आपकी है, आप कागज दिखाएं।

योजना के तहत 33 केवी जीएसएस बनाया जाना है। इसके लिए जमीन मांगने के लिए उपखण्ड अधिकारी व ईओ को बताया गया। जिसके तहत मोतीरामजी कोठी में नगरपालिका की जमीन को जीएसएस बनाने के लिए चिह्नित किया गया। जमीन पर किसी व्यक्ति ने कब्जा किया हुआ था, जिसे पुलिस की मदद से मुक्त कराया गया। जीएसएस निर्माण के लिए कुल 25 सौ वर्ग मीटर जमीन विद्युत विभाग को चाहिए। नगरपालिका की ओर से भूमि सौंप देने के पश्चात जीएसएस निर्माण का कार्य शुरू करवा दिया जाएगा।
- आर.के.शर्मा, सहायक अभियन्ता, विद्युत निगम, कुचामन

विद्युत निगम को जीएसएस बनाने के लिए नगरपालिका सरकारी जमीन विभाग को दे रही है। थोड़ा विवाद हुआ, पूरी जानकारी तो नगरपालिका ही बता सकती है।
- महावीर प्रसाद शर्मा, तहसीलदार, कुचामन

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned