हेल्पलाइन नंबर से मिल रही राहत, विभाग की पहल हुई कारगर

हेल्पलाइन नंबर से मिल रही राहत, विभाग की पहल हुई कारगर

Kamlesh Meena | Publish: Nov, 10 2018 04:43:30 PM (IST) | Updated: Nov, 10 2018 04:43:31 PM (IST) Kuchaman City, Nagaur, Rajasthan, India

पहले कॉल सेंटर पर दर्ज होती थी शिकायतें, जलदाय विभाग ने करीब एक वर्ष पूर्व की थी नंबर की शुरुआत

कुचामनसिटी. जलदाय विभाग ने अपने विभाग से संबंधित परेशानी या शिकायत के लिए जब से हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं, तब से अब तक हर माह शिकायतों का अंबार लगना शुरू हो गया है। पहले उपभोक्ता कॉल सेंटर पर अपनी शिकायत दर्ज करवाते थे, लेकिन करीब एक वर्ष पहले जलदाय विभाग ने कॉल सेंटर पर दर्ज होने वाली शिकायतों की प्रक्रिया को बंद करते हुए हेल्पलाइन नंबर की शुरुआत कर दी। विभाग का इसके पीछे उपभोक्ताओं की समस्याओं का तत्काल समाधान करना था और विभाग की यह सोच कारगर भी साबित हुई। कुचामन सहायक अभियंता कार्यालय क्षेत्र के करीब 100 उपभोक्ता इस सुविधा का लाभ उठा रहे हैं। उनकी समस्या का समाधान भी तत्काल हो रहा है। जानकारी के अनुसार करीब एक वर्ष जलदाय विभाग ने अपने विभाग से जुड़ी किसी भी परेशानी या शिकायत के लिए 181 नंबर हेल्पलाइन के रूप में शुरू किए थे। यह व्यवस्था 1800-180-6088 को बंद करके शुरू की गई थी। इस नंबर शिकायत दर्ज करवाने पर उपभोक्ताओं की पेयजल से संबंधित समस्याओं का समयबद्ध एवं प्रभावी रूप से समाधान होता है। हालांकि शुरुआत में उपभोक्ताओं को इस सुविधा की जानकारी कम ही थी, जिस कारण वे इस नंबर अपनी शिकायत या परेशानी दर्ज नहीं करवा पा रहे थे। लेकिन अब हेल्पलाइन नंबर पर प्रतिमाह करीब 100 के करीब शिकायतें दर्ज हो रही है। इससे उपभोक्ताओं की समस्याओं का तत्काल समाधान हो रहा है। ग्रामीण क्षेत्र के उपभोक्ता भी अपनी शिकायत को हेल्पलाइन पर दर्ज करवा रहे हैं। इधर, जलदाय विभाग के सूत्रों के अनुसार हेल्पलाइन पर शिकायत दर्ज होने के बाद उसका तीन दिन के भीतर समाधान करना होता है। यदि शिकायत का समाधान तत्काल नहीं होता है तो वह शिकायत मुख्यालय पर स्थानांतरित कर दी जाती है।

इनका कहना है
विभाग ने जब से हेल्पलाइन नंबरों की शुरुआत की है। बड़ी संख्या में हर माह परेशानी व शिकायतें दर्ज हो रही है। साथ ही उनका समयबद्ध तरीके से समाधान किया जा रहा है। वर्तमान में करीब 100 परेशानी व शिकायतें तो दर्ज हो ही जाती है। पहले कॉल सेंटर पर शिकायतें दर्ज होती थी, जिसे करीब एक वर्ष पूर्व बंद कर दिया है।
- ऋषिराज शर्मा, सहायक अभियंता, जलदाय विभाग, कुचामनसिटी

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned