यूपी में अब पुलिस थाने जाने से मिला छुटकारा, नहीं जाना पड़ेगा थाने में एफआर्इआर कराने या वेरिफिकेशन कराने

यूपी में अब पुलिस थाने जाने से मिला छुटकारा, नहीं जाना पड़ेगा थाने में एफआर्इआर कराने या वेरिफिकेशन कराने
up police

Dheerendra Vikramadittya | Updated: 28 Aug 2019, 09:09:09 AM (IST) Gorakhpur, Gorakhpur, Uttar Pradesh, India

  • यूपी में स्मार्ट पुलिसिंग (Smart Policing) के तहत बढ़ाई जा रही नागरिक सुविधाएं
  • नागरिकों को थाने के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे

उत्तर प्रदेश के थानों में जाकर एफआईआर दर्ज कराना एक बेहद दुरुह काम माना जाता रहा है। तिस पर भ्रष्टाचार के बोलबाले ने इसे और कठिन कर दिया। लेकिन अब यूपी बदल रहा है। तकनीक की राह की ओर अग्रसर यूपी पुलिस ने एक ऐसा एप लांच (UPCOP App) किया है कि कोई भी कहीं से अपना एफआईआर दर्ज करा सकेगा। यही नहीं इस एप के जरिए आप किराएदार का वेरिफिकेशन, कैरेक्टर सर्टिफिकेट सहित कई काम आसानी से करा सकेंगे।

इस एप से मिलेगी थाने तक जाने से निजात

यूपी काॅप(UPCop App)नामक पुलिस एप लांच किया गया है। आप अपने मोबाइल पर इस एप को डाउनलोड कर सकते हैं। एप के डाउनलोड हो जाने के बाद आप पुलिस से जुड़ी तमाम सेवाएं प्राप्त कर सकते हैं। यथा, अगर आपको एफआईआर दर्ज करानी हो तो आपको कहीं जाने की जरूरत नहीं है। आपको यूपीकाॅप एप पर जाकर एफआईआर दर्ज करा सकते हैं। गाड़ी चोरी, घर में चोरी, लूट, छिनैती, गुमशुदगी सहित अपराधिक वारदातों के संबंध में भी सूचनाएं यहां दर्ज कराई जा सकती हैं।
यही नहीं इस एप से आप कैरेक्टर सर्टिफिकेट के लिए आवेदन करने के साथ, उसकी प्रगति रिपोर्ट भी जान सकेंगे। इसी एप पर आपको सर्टिफिकेट बनकर मिल भी जाएगा।
गोरखपुर के एसएसपी डाॅ.सुनील गुप्ता ने बताया कि यूपीकाॅप एप आमजन के लिए बेहद लाभप्रद साबित होगा। इस एप के प्रति सबको जागरूक होना चाहिए।

इन सुविधाओं को एप से प्राप्त किया जा सकता

  • ई एफआईआर का रजिस्ट्रेशन
  • एफआईआर देखने की सुविधा
  • थाना खोजने की सुविधा
  • चुराए व बरामद किए गए वाहनों की जानकारी
  • कैरेक्टर सर्टिफिकेट
  • किराएदार वेरिफिकेशन
  • आपराधिक प्रवृत्ति के व्यक्तियों की शिकायत की जा सकेगी
  • साइबर अपराध के प्रति सतर्कता संबंधित जानकारियां
  • शिकायतकर्ता के पास एसएमएस से जानकारी
  • केस दर्ज होने पर सूचना
  • जांच अधिकारी का नाम, नंबर
  • केस की प्रगति, विवेचना बदलने पर सूचना
  • अभियुक्त की गिरफ्तारी होने की सूचना
  • बरामदगी की सूचना
  • चार्जशीट व एफआर की सूचना
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned