पंचों ने शौहर-बीबी के रिश्ते की कीमत लगार्इ डेढ़ लाख, चेक देकर हुआ रिश्ता खत्म करने का एेलान

पंचों ने शौहर-बीबी के रिश्ते की कीमत लगार्इ डेढ़ लाख, चेक देकर हुआ रिश्ता खत्म करने का एेलान

Dheerendra Vikramadittya | Updated: 04 Aug 2019, 12:02:03 AM (IST) Gorakhpur, Gorakhpur, Uttar Pradesh, India

तलाक देने के बाद डेढ़ लाख का चेक देकर संबंध विच्छेद कराया पंचों ने (Triple talaq null and void in Kushinagar, Husband given talaq on mobile)

देश की संसद ने तीन तलाक को भले ही गैर कानूनी करार दिया है लेकिन कुशीनगर में रहने वाले एक परिवार ने इस कानून को ठेंगा दिखा दिया है। विदेश रहने वाले पति ने पत्नी को मोबाइल पर तीन तलाक देकर रिश्ता एक झटके में समाप्त कर दिया( Husband given talaq on phone in kushinagar)। तलाक को पंचों ने भी सही ठहराते हुए डेढ़ लाख का चेक पीड़िता को देकर रिश्तेे को खत्म करने पर मुहर लगा दी( Panchayat supported spontaneous triple talaq on phone and ordered 1.5 lakh compensation)। अब पीड़ित पक्ष ने पुलिस को तहरीर दी है।

Read this also:

खेत गिरवी रखकर की थी बेटी की शादी, विदेश से पति ने दे दिया तलाक

कुशीनगर जिले के खड्डा के जखिनिया गांव के अहमद अली की पुत्री फातिमा खातून (25) की शादी नेबुआ नौरगियां के शोभाछपरा गांव के अब्दुल रहीम के पुत्र तराबुद्दीन के साथ हुई थी। बेटी की शादी में गरीब पिता ने काफी परेशानी में दान-दहेज का इंतजाम किया। पिता ने सोचा कि बेटी का होने वाला पति विदेश कमाता है, वह सुखी जीवन व्यतीत करेगी। पीड़ित पक्ष के अनुसार शादी के चार माह बाद ही फातिमा का पति तराबुद्दी सऊदी अरब चला गया।

फातिमा के अनुसार उसका पति जब विदेश से आता तो उससे दूर दूर रहने की कोशिश करता। उसे प्रताड़ित करता। फातिमा बताती कि पति किसी झारखंड की महिला का फोटो दिखाते और उससे शादी की बात करते। पूरा घर शादी के कुछ ही महीना बाद उसे प्रताड़ित करने लगा। फातिमा बताती कि वह सबकुछ सहकर ससुराल में रह रही थी।
पहली अगस्त को तराबुद्दीन का फोन घर पर आया। ससुर अब्दुल रहीम ने फातिमा से तराबुद्दी से बात कराई। जैसे ही फातिमा ने काॅल रिसीव किया तो तराबुद्दीन ने उसे तलाक दे दिया। तलाक तलाक तलाक कहने के बाद उसने कहा कि अब हम दोनों के बीच कोई रिश्ता नहीं है।( Husband call wife from Saudi arab and given talaq on mobile)
पति के तलाक देने से परेशान फातिमा ने मायके फोन किया। अगले दिन उसके मां-पिता बेटी के ससुराल पहुंचे। पंचायत बैठी।

Read this also: दिल के मरीज पति के लिए बैंक से निकाले थे ढाई लाख, मददगार बनकर आए, लूटने के बाद हाथ पांव बांधकर इस हालत में छोड़ दिया

पंचों ने भी तलाक को सही ठहराते हुए फातिमा को डेढ़ लाख रुपये के दो चेक दिखए। स्टांप पेपर पर अंगूठा लगवा दिया और रिश्ता खत्म करने का ऐलान हो गया।( Panchayat ignored law and supported triple talaq and ordered to pay compensation of 1.5 lakh rupees)

Read this also: अब फिंगर प्रिंट से तय होगा राजेश का ही नया रुप है सोनिया, डाॅक्टर बताएंगे वह पुरुष है महिला है या कुछ और

 

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned