पुल निर्माण की मांग को लेकर शुरू हुआ जल सत्याग्रह

 पुल निर्माण की मांग को लेकर शुरू हुआ जल सत्याग्रह
Jal satyagrah

पुल नहीं बनने तक सत्याग्रह आन्दोलन जारी रखने की घोषणा

कुशीनगर. अपने अस्तित्व के लिये लंबे समय से जद्दोजहद कर रहे कुशीनगर के दुदही ब्लॉक के बांसगांव खैरवा गांव के लोगों ने अब आंदोलन की रूख अख्तियार किया है। बांसी नदी पर पक्के पुल निर्माण की मांग को लेकर ग्रामीणों ने जिला प्रशासन को आंदोलन की चेतावनी दी है। बांसगांव खैरवा सहित दर्जनों गांव के लोगों ने रविवार को बांसी नदी में खड़े होकर और हाथों में गंगाजल लेकर पुल ना बनने पर जल सत्याग्रह करने की सौगन्ध ली। ग्रामीणों ने बांसी नदी पर पुल न बनने तक सत्याग्रह आन्दोलन जारी रखने की बात कही।


यह भी पढ़ें:
तीन साल के इंतजार के बाद आखिर यह गांव बना पीएम मोदी का तीसरा सांसद आदर्श गांव
 

तमकुहीराज तहसील के बांसगांव खैरवा और आस-पास के दर्जनों गांव के लोग कई साल से बांसी नदी पर पक्का पुल बनाने की मांग कर रहे हैं। खैरवा घाट पर पुल ना बनने से लगभग 22 गांव के लोग प्रभावित हैं, हजारों लोगों को हर रोज बांसी नदी पार करके खेती और बिहार में बाजार करने जाते हैं। दर्जनों गांव के हजारों लोग रोज जान हथेली पर रखकर इस नदी को पार करते हैं। नदी पार करते समय अब तक दो दर्जन से अधिक लोगों की मौत हो चुकी हैं लेकिन शासन और प्रशासन की संवेदना नहीं जागी।



कई साल से गांव के लोग बांसी नदी पर पक्का पुल बनवाने की मांग कर रहे हैं लेकिन शासन और प्रशासन उनकी बात अनसुनी करता रहा है। साल भर पहले दर्जनों गांव के लोगों ने आंदोलन किया था जिसके बाद मजबूर होकर तत्कालीन जिलाधिकारी गांव में पहुंचे थे और कुछ दिन बाद ही पुल बनवाने का आश्वासन दिया था लेकिन उनका आश्वासन झूठा साबित हुआ और दर्जनों गांव के हजारों  लोग पक्के पुल के लिये तरसते रहे।


एकबार फिर इन गांव के लोगों ने आंदोलन का रूख अख्तियार किया है, गांव वालों का कहना है हर चुनाव में इस घाट पर पुल बनाने का मुद्दा उठता है लेकिन चुनाव बीतने के बाद यह मुद्दा गुम हो जाता है और नेता अपने वायदे से मुकर जाते हैं।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned