चेयरमैन पद के आरक्षण पर सबकी निगाहें, टिकट के जुगाड़ में जुटे नेता

Rafatuddin Faridi

Publish: Oct, 12 2017 05:49:16 (IST)

Kushinagar, Uttar Pradesh, India
चेयरमैन पद के आरक्षण पर सबकी निगाहें, टिकट के जुगाड़ में जुटे नेता

निकाय चुनाव में आरक्षण सूची जारी होने के बाद सक्रिय हुए टिकट के दावेदार।

अवधेश कुमार मल्ल
कुशीनगर. जिले नगरपालिकाओं व नगरपंचायतों के वार्डों का आरक्षण जारी होने के बाद चुनाव लड़ने सक्रिय हो उठे है। मतदाता सूची अभी फाइलन न होने से सम्भावित प्रत्याशी मतदाताओं का नाम सूची में दर्ज कराने में लगे हुए हैं। परंतु चेयरमैन पद का आरक्षण जारी नहीं होने के कारण प्रत्याशियों में ऊहापोह की स्थिति बनी हुई है। सबकी नजर नगरपालिकाओं व नगरपंचायतों के आरक्षण पर लगी हुई है।


मालूम रहे कि कुशीनगर जनपद में पडरौना, हाटा व कुशीनगर समेत तीन नगरपालिकाएं हैं। वहीं सेवरही, रामकोला, कप्तानगंज व खड्डा सहित चार नगरपंचायतें इस जिले में हैं। पडरौना नगरपालिका के 25 वार्ड हैं जिनमें नौ महिलाओं के लिए आरक्षित है। पिछडा वर्ग की दो व एक अनुसूचित जाति महिला चुनाव लड सकेंगी। चार पिछड़ा वर्ग के लिए व एक अनुसूचित जाति के पुरूष के लिए आरक्षित है। टाऊन एरिया से पहली बार नगरपालिका बने हाटा में भी 25 वार्ड बनाएं गए हैं, लेकिन नगरपालिका मे शामिल 39 गांवों के लोग आज भी विरोध का स्वर बुलंद कर रहे हैं। इस नगरपालिका में नौ सीट महिआओं के लिए आरक्षित है, जिसमें से दो पर ओबीसी व एक पर अनुसूचित जाति की महिला चुनाव लड़ सकेंगी। हाटा में चार सीट ओबीसी व एक सीट अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित है।

 

नगरपालिका कुशीनगर में कुल 27 वार्ड बनाए गए हैं। इसमें नौ सीट महिलाओं के लिए आरक्षित है। इसमें तीन पर पिछड़ा वर्ग व दो पर अनुसूचित जाति की महिलाएं चुनाव लड़ सकेंगी। पिछड़ा वर्ग के लिए चार व अनुसूचित के लिए दो सीट आरक्षित है। टाऊन एरिया सेवरही में 14, खड्डा में 12, रामकोला मे 12 व कप्तानगंज में 17 वार्ड बनाकर आरक्षण घोषित कर दिया गया है। नौ अक्टूबर को मतदाताओं की अन्नतिम सूची जारी की जा चुकी है, लेकिन मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन 18 अक्टूबर को होना तय है।

 

संभावित उम्मीदवार अभी अपना सारा ध्यान मतदाता सूची पर लगाए हुए हैं. उनकी कोशिश है कि उनके हर समर्थक का नाम सूची में दर्ज हो जाए. चेयरमैन पद का आरक्षण अभी जारी नहीं होने से प्रत्याशी मतदाताओं से संपर्क तो कर रहे हैं लेकिन अभी अपने संपर्क अभियान में बहुत तेजी नहीं ला पाए हैं। पार्टियों से चुनाव लडने का सपना पाले नेता अपने टिकट के जुगाड़ में लगे हुए हैं। सबसे ज्यादा मारामारी भाजपा से टिकट लेने के लिए है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned