मां सुनाती रही बारह साल की बेटी संग हुर्इ दरिंदगी की खौफनाक दास्तान लेकिन नहीं पसीजी पुलिस

मां सुनाती रही बारह साल की बेटी संग हुर्इ दरिंदगी की खौफनाक दास्तान लेकिन नहीं पसीजी पुलिस

Dheerendra Vikramadittya | Updated: 11 Jun 2019, 07:49:54 AM (IST) Gorakhpur, Gorakhpur, Uttar Pradesh, India

-शर्मनाकः नाबालिग से गैंगरेप, केस दर्ज करने के लिए पुलिस टरकाती रही

-अलीगढ़ में पुलिसिया ढिलाई के बाद कुशीनगर में नाबालिग से गैंगरेप में भी लापरवाही सामने आई

पुलिसिया लापरवाही से बेटियों की इज्जत दांव पर लग रही कर्इ जगह उनको न्याय भी नहीं मिल पा रहा। अलीगढ़ में बच्ची की निर्मम हत्या के बाद कुशीनगर में 12 साल की दलित नाबालिग संग गैंगरेप में पुलिसिया लापरवाही सामने आई है। पीड़ित परिवार केस दर्ज कराने के लिए भटकता रहा और पुलिस थाने पर टरकाती रही। दो दिन बाद दबाव पड़ने पर पुलिस ने केस दर्ज किया और आरोपियों की गिरफ्तारी की।
कुशीनगर के अहिरौली क्षेत्र में एक दलित परिवार का गांव के ही कुछ लोगों से विवाद था। सात जून को विरोधी पक्ष के घर पर कोई आयोजन था। आयोजन के दौरान रात करीब आठ बजे छह लोग पीड़ित पक्ष के दरवाजे पर पहुंचे। पीड़िता की मां के अनुसार वे लोग भद्दी-भद्दी गालियां देते हुए उनकी बेटी को उठा ले गए। पीड़ित परिवार डरा सहमा तत्काल डाॅयल 100 मिलाया। लेकिन तबतक वे लोग उनकी बेटी के साथ सामूहिक बलात्कार किया। जब वह बेहोश हो गई तो पास ही फेंक दिया। पुलिस पहुंची तो लड़की को अस्पताल पहुंचायी। डाॅयल 100 पुलिस ने संबंधित थाने को केस रेफर कर दिया। उधर, अहिरौली बाजार पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेने की बजाय इसे आपसी विवाद में लगाया आरोप बताकर उनको टरका दिया।
उधर, पीड़िता का प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर इलाज के दौरान हालत बिगड़ी तो उसे दूसरे अस्पताल भेज दिया गया जहां एक महिला अस्पताल ने उसका इलाज शुरू किया।

जब मामला तूल पकड़ा तो दो दिन बाद केस दर्ज

7 जून को हुए गैंगरेप में 9 जून को पुलिस ने जाकर केस रजिस्टर्ड किया वह भी जब मामला तूल पकड़ा। पीड़िता पक्ष की तहरीर मिलने के बाद पुलिस ने छह लोगों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज करने के बाद चार लोगों को गिरफ्तार भी कर लिया।

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned