Lakhimpur Kheri Violence: किसानों के ऊपर गाड़ी चढ़ाने के आरोपी आशीष मिश्रा ने की न्यायिक जांच की मांग,  केंद्रीय गृह राज्य मंत्री ने कही ये बात

Ashish Mishra accused of ramming farmers demanded judicial inquiry- यूपी के लखीमपुर खीरी जिले में रविवार को हुई हिंसा पर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा ने बयान दिया है। उन्होंने अपने ऊपर लगे आरोपों को नकारते हुए मामले में न्यायिक जांच की मांग की है।

By: Karishma Lalwani

Updated: 04 Oct 2021, 02:41 PM IST

लखीमपुर खीरी. Ashish Mishra accused of ramming farmers demanded judicial inquiry. यूपी के लखीमपुर खीरी जिले में रविवार को हुई हिंसा पर केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा ने बयान दिया है। उन्होंने अपने ऊपर लगे आरोपों को नकारते हुए मामले में न्यायिक जांच की मांग की है। उनका कहना है कि कुछ अनियंत्रित तत्वों ने हमारे कार्यकर्ताओं पर हमला किया और उनमें से 4-5 को मार डाला। मैं सुबह नौ बजे से अंत तक बनबीरपुर में था। दो दिनों से घटनास्थल पर नहीं थ। हो सकता है कि वो मुझे पसंद नहीं करते और राजनीति का इस्तेमाल कर रहे हों। उन्होंने कहा कि मामले की जांच हो और दोषियों को सजा मिले। उधर, केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी ने कहा कि उन्हें किसानों के शांतिपूर्वक विरोध की सूचना मिली थी। इसे लेकर उनका रास्ता बदल दिया गया। इसी दौरान किसानों के बीच छिपे कुछ अनियंत्रित तत्वों ने बीजेपी कार्यकर्ताओं की कारों पर लाठियों से हमला कर दिया।

धारा 302 के खिलाफ केस दर्ज होगा

अजय मिश्रा टेनी ने कहा कि वो लोग किसानों के बीच बदमाश थे। किसान आंदोलन की शुरुआत के बाद से बब्बर खालसा समेत कई आतंकी संगठन अराजक स्थिति पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं। ये घटना उसी का परिणाम थी। घटना में तीन कार्यकर्ताओं और एक ड्राइवर की मौत हो गई और कारों में आग लगा दी गई। उन्होंने कहा कि वह एफआईआर दर्ज कराएंगे। उनके पास वीडियो है जिसमें शामिल लोगों के खिलाफ धारा 302 के तहत मामला दर्ज किया जाएगा और कार्रवाई की जाएगी।

यह है पूरी घटना

रविवार को उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य जिले में थे। दोपहर में उनको केंद्रीय राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी के गांव बनवीरपुर जाना था। उप मुख्यमंत्री के आने के विरोध में सुबह से ही किसान उतर आए थे। तिकुनिया के महाराजा अग्रसेन इंटर कॉलेज में बनाए गए हेलीपैड पर किसानों ने ट्रैक्टर-ट्रालियां खड़ी कर दीं। सैकड़ों की संख्या में काले झंडे लेकर किसान वहां मौजूद थे और उप मुख्यमंत्री के विरोध का ऐलान कर रहे थे। इसी बीच बनवीरपुर की ओर से बेहद तेज गति से आती दो कारें किसानों के बीच घुस गईं और उनको रौंदती हुई चली गई। इसमें एक कार में केंद्रीय राज्यमंत्री के बेटे आशीष मिश्र मोनू के सवार होने का दावा किसान यूनियन ने किया है। हालांकि हालांकि केंद्रीय मंत्री की ओर से इससे इंकार किया गया है। हादसे में आठ लोगों की मौत हो गई।

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned