...अब विभाग खुद बढ़वाएगा बिजली कनेक्शन का लोड

बिजली विभाग के अधिकारी शहरवासियों को झटका देने के मूड में है...

लखीमपुर खीरी. अब विभाग खुद ही कम लोड लेकर ज्यादा बिजली खपत करने वालो की तलाश करेगी। इसको लेकर बिजली विभाग के अधिकारी शहरवासियों को झटका देने के मूड में है। अधिकारी बिजली विभाग के अधिकारी आप की सहमति के बिना करीब बीस हजार बिजली कनेक्शन को एक किलो वाट से 2 किलोवाट में बदलने जा रहा हैं। इससे शहर में रहने वालों पर 50 हजार का अतिरिक्त बोझ पड़ने वाला है। बिजली विभाग ने इसके लिए मानक भी तैयार कर लिये है।

 

बढ़ाया जाएगा लोड

25 वर्ग मीटर के दायरे में मकान बनाकर रहने वाले लोगों का बिजली लोड नहीं बढ़ाया जाएगा। इससे ज्यादा परिधि वाले मकानों का खुद लोड बढ़ा दिया जाएगा। विभागीय आंकड़ों के मुताबिक शहर के करीब तीस हजार उपभोगताओं का स्वीकृत विद्युत भार 1 किलो वाट है। लेकिन अधिकारियों का दावा है। कि पिछले 3 साल के मुकाबले कूलर, एसी के ज्यादा इस्तेमाल से बिजली का लोड बढ़ रहा है।

 

बिल में जोड़कर वसूला जाएगा बिल

कहा जा रहा है कि 1 किलोवाट के कुल कनेक्शनों में करीब दस हजार ऐसे उपभोगता है, जो गरीब तबके के हैं। उनके यहां बिजली उपकरण बड़े नहीं हैं। शेष कनेक्शनों पर लोड बढ़ता जा रहा है। वही अधिकारियों का कहना है कि एक किलो वाट से 2 किलो वाट बिजली कनेक्शन बढ़ाये जाने पर 710 रुपये का चार्ज आयेगा। जिसे संबंधित के बिजली बिल में जुड़कर वसूला जाएगा। यह लोगों के बिजली बिल पर भी अंकित कर दिया जाएगा। अफसरों ने कनेक्शनों को अपडेट करने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है। करीब 750 कनेक्शनों का लोड बढ़ा कर दो किलोवाट कर दिया गया है।

 

1 किलोवाट कनेक्शन पर रोक

विभाग ने शहरी क्षेत्र में 1 किलो का बिजली कनेक्शन जारी करने पर रोक लगा दी है। अभियंता को निर्देश दिए गए हैं। कि कनेक्शन लोड करते समय जमीन के कागज की जांच करें। खुद बना सकते हैं लोड एसडीओ डाउन अनुराग कुमार शर्मा का कहना है। कि शहर कि में वर्षों से 1 किलो वाट के बिजली कनेक्शन है। घरों में उपकरण बढ़ते चले गए। लेकिन कभी लोड नहीं बढ़वाया गया। इसलिये कनेक्शनों को अपग्रेड किया जा रहा है। अगर लोग चाहे तो वह शाहपुरा कोठी चौराहे स्थित बिजली कार्यालय पहुंच कर अपना लोड बढ़ा सकते हैं। चेकिंग के दौरान विद्युत भार से ज्यादा बिजली खपत मिलने पर कार्रवाई सुनिश्चित होगी।

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned