तराई के नौ जिलों के डीएम, एसडीएम व एडीएम को ट्रेनिंग कराएगा एयरफोर्स

बाढ़ प्रभावित जनपदों के प्रशासनिक अधिकारियों को राहत और बचाव कार्यों के लिए प्रशिक्षण देने की तैयारी की गई

By: Mahendra Pratap

Published: 24 Jul 2018, 08:17 PM IST

लखीमपुर खीरी. प्रदेश के बाढ़ प्रभावित जनपदों के प्रशासनिक अधिकारियों को बाढ़ के दौरान राहत और बचाव कार्यों के लिए प्रशिक्षण देने की तैयारी की गई। इस प्रशिक्षण में एयर ड्रापिंग और एयर लिफ्टिंग को शामिल किया गया है। यह प्रशिक्षण 25 जुलाई को मुंजहा स्थित हवाई पट्टी पर दिया जाएगा। इसे लेकर तैयारियां अंतिम चरण पर पहुंच गई हैं। नगर पालिका की तरफ से जेसीबी से साफ-सफाई कराई गई है। जबकि हवाई पट्टी को चमकाने का भी तेजी से कार्य जारी है।

ये भी पढ़ें: गाली दे रहे शराबी का विरोध करना पड़ा महंगा, दंपत्ति पर किया जानलेवा हमला

एयर लिफ्टिंग के जरिये बचाव करने का प्रशिक्षण दिया जाए

उत्तर प्रदेश राज्य आपदा प्रबंध प्राधिकरण की तरफ से एक पत्र जारी किया गया था। जिसमें बाढ़ प्रभावित जिलों के प्रशासनिक अधिकारियों को बाढ़ के दौरान एयर लिफ्टिंग के जरिए बचाव कार्य करने का प्रशिक्षण दिए जाने की बात कही गई थी। पहले यह प्रशिक्षण मुंजहा स्थित हवाई पट्टी पर 16 जुलाई को प्रस्तावित था लेकिन अब यह प्रशिक्षण 25 जुलाई को आयोजित किया गया है। इसको लेकर हवाई पट्टी पर साफ-सफाई, रंगरोगन के साथ ही बिजली और अन्य व्यवस्थाएं चाक चैबंद करनी शुरू हो गई थी।

ये भी पढ़ें: 8 साल में हुई शिक्षक नियुक्तियों की होगी जांच, तलाशी जाएंगी फर्जी भर्तियां

ये अधिकारी रहेंगे मौजूद

जिलाधिकारी शैलेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि एयरफोर्स द्वारा यह ट्रेनिंग कराई जा रही है। इमसें तराई के नौ जिले जिनमें खीरी, पीलीभीत, सीतापुर, बदायूं, शाहजहांपुर, बहराइच, कासगंज के डीएम, एडीएम, एसपी, एसडीएम व तहसीलदार प्रशिक्षण लेंगें। बताया कि इसमें भारतीय वायु सेना इलाहाबाद से अधिकारी भी आएंगें। जबकि चार अधिकारी बरेली से यहां आ रहे हैं, जिसमें आर्मी के मेजर भी मौजूद रहेंगे। इसके साथ ही पीएसी कमानडेंट सहित सभी अधिकारी जो बाढ़ में बचाव राहत का कार्य करते हैं, वे यहां उपस्थिति रहेंगे। दोपहर 12 बजे से प्रशिक्षण की शुरूआत की जाएगी।

Mahendra Pratap Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned