scriptLakhimpur Kheri Case Charges Against Four Farmers Clean Chit for Three | लखीमपुर खीरी कांड में दूसरी चार्जशीट दाखिल, चार किसानों को बनाया आरोपी, तीन को राहत | Patrika News

लखीमपुर खीरी कांड में दूसरी चार्जशीट दाखिल, चार किसानों को बनाया आरोपी, तीन को राहत

उत्तर प्रदेश पुलिस ने लखीमपुर खीरी मामले में दूसरी चार्जशीट दाखिल कर दी है। गिरफ्तार किए गए सात आरोपी किसानों में से पुलिस ने चार आरोपी विचित्र सिंह, गुरविंदर सिंह, कमलजीत सिंह और गुरप्रीत सिंह के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किए हैं।

लखीमपुर खेरी

Updated: January 22, 2022 10:14:02 am

उत्तर प्रदेश पुलिस ने लखीमपुर खीरी मामले में दूसरी चार्जशीट दाखिल कर दी है। दूसरी चार्जशीत सुमित जायसवाल ने दर्ज कराई है। चार्जशीट में सात किसानों के खिलाफ एक ड्राइवर और दो बीजेपी नेताओं की हत्या का आरोप लगाया था। गिरफ्तार किए गए सात आरोपी किसानों में से पुलिस ने चार आरोपी विचित्र सिंह, गुरविंदर सिंह, कमलजीत सिंह और गुरप्रीत सिंह के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किए हैं। वरिष्ठ अभियोजन अधिकारी (एसपीओ) एसपी यादव ने कहा कि तीन व्यक्तियों रणजीत सिंह, सोनू उर्फ कंवलजीत सिंह और अवतार सिंह के संबंध में अंतिम रिपोर्ट सीआरपीसी की धारा 169 (सबूत की कमी होने पर रिहाई) के तहत प्रस्तुत की गई है उनकी रिहाई के आदेश जारी किए हैं।
Lakhimpur Kheri Case Charges Against Four Farmers Clean Chit for Three
Lakhimpur Kheri Case Charges Against Four Farmers Clean Chit for Three
विभिन्न धाराओं में आरोप पत्र दाखिल

जिन चार आरोपियों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया गया है, उनमें विचित्र सिंह के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 109, 114, 426, 436 और 506 शामिल है। जबकि, गुरविंदर सिंह, कमलजीत सिंह और गुरप्रीत सिंह के खिलाफ धारा 143, 147, 148,1 49, 323, 325, 427, 436, 504 और 302 शामिल हैं।
दो प्राथमिकी दर्ज

गौरतलब है कि तीन अक्टूबर, 2021 को लखीमपुर खीरी के तिकुनिया में हुई हिंसा में चार किसानों, एक पत्रकार, भारतीय जनता पार्टी के दो कार्यकर्ताओं और एक ड्राइवर सहित आठ लोगों की मौत हो गई थी। इस मामले में अब तक दो प्राथमिकी दर्ज की गई है। उत्तर प्रदेश पुलिस के विशेष जांच दल ने पांच हजार पन्नों की पहली चार्जशीट दाखिल की थी, जिसमें गृह मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा और 15-20 अन्य पर चार किसानों और एक पत्रकार को कुचलने का आरोप लगाया गया था। एसआईटी गठित की गई थी जिसमें आशीष मिश्रा, सुमित जायसवाल, अंकित दास और 11 अन्य के खिलाफ आईपीसी, शस्त्र कानून की विभिन्न धाराओं के तहत प्राथमिकी संख्या-219 के तहत आरोप पत्र दाखिल किया गया था। आरोप पत्र तीन जनवरी को दाखिल किया गया था।
दूसरी प्राथमिकी दो भाजपा कार्यकर्ताओं और एक ड्राइवर की हत्या के मामले में दर्ज की गई है। प्राथमिकी संख्या-220 के संबंध में जांच करते हुए एसआईटी से सात लोगों को गिरफ्तार किया। हालांकि, शुक्रवार को आरोप पत्र दाखिल करते हुए केवल चार लोगों को ही आरोपी बनाया गया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठाLiquor Latest News : पियक्कडों की मौज ! रात एक बजे तक खरीदी जा सकेगी शराबशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफMorning Tips: सुबह आंख खुलते ही करें ये 5 काम, पूरा दिन गुजरेगा शानदारDelhi Schools: दिल्ली में बदलेगी स्कूल टाइमिंग! जारी हुई नई गाइडलाइनMahindra Scorpio 2022 का लॉन्च से पहले लीक हुआ पूरा डिजाइन और लुक, बाहर से ऐसी दिखती है ये पावरफुल कारबैड कोलेस्‍ट्राॅल और डिमेंशिया को कम करके याददाश्त को बढ़ाता है ये लाल खट्‌टा-मीठा फल, जानिए इसके और भी फायदेAC में लगाइये ये डिवाइस, न के बराबर आएगा बिजली बिल, पूरे महीने होगी भारी बचत

बड़ी खबरें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी टोक्यो पहुंचे, भारतीय प्रवासियों ने किया स्वागत, जापानी बच्चे के हिन्दी बोलने पर गदगद हुए PMदिल्ली-NCR में सुबह आंधी और बारिश से कई जगह उखड़े पेड़, विमान सेवा प्रभावितज्ञानवापी मामले के बीच गोवा के सीएम का बड़ा बयान, प्रमोद सावंत बोले- 'जहां भी मंदिर तोड़े गए फिर से बनाए जाएं'BJP को सरकार बनाने के लिए क्यों जरूरी है काशी और मथुरा? अयोध्या से बड़ा संदेश देने की तैयारीबेल्जियम, पहला देश जिसने मंकीपॉक्स वायरस के लिए अनिवार्य किया क्वारंटाइनएशिया कप हॉकी: पहले ही मैच में भिड़ेंगे भारत और पाकिस्तान, ऐसा है दोनों टीमों का रिकॉर्डआख़िर क्यों असदुद्दीन ओवैसी बार-बार प्लेसेज ऑफ़ वर्शिप एक्ट की बात कर रहे हैं, जानें क्या है यह एक्टकपिल देव के AAP में शामिल होने की चर्चा निकली गलत, सोशल मीडिया पर पूर्व कप्तान ने खुद साफ की स्थिति
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.