दुष्कर्म के दोषी को सता रहा था सजा का डर, कोर्ट के फैसले से पहले खुद लगाई फांसी

दोषी के परिजनों ने बताया कि 12 दिसंबर को उसके केस में कोर्ट का फैसला आना था...

लखीमपुर खीरी. जिले में दुष्कर्म के एक दोषी ने सजा के डर से बुधवार को फांसी लगाकर जान दे दी। दोषी के परिजनों ने बताया कि 12 दिसंबर को उसके केस में फैसला आना था। दुष्कर्म के केस में युवक को मुख्य आरोपी बनाया गया था और उसपर आरोप भी तय हो चुके थे। केस में आरोप तय होने के बाद से युवक लगातार परेशान चल रहा था।

जमानत पर था दोषी

आपको बता दें कि लखीमपुर खीरी में थाना मैलानी क्षेत्र के बांकेगंज में लगभग दो साल पहले एक ग्रामीण संतोष कुमार पर गांव की नाबालिग ने पाॅस्को एक्ट के तहत रेप का केस दर्ज कराया था। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। इस समय मामला कोर्ट में है और दोषी युवक जमानत पर जेल से बाहर था।

किशोरी के घरवालों पर आरोप

वहीं युवक के परिजनों ने बताया कि कोर्ट में मामले की सुनवाई पूरी हो चुकी है। युवक पर दोष भी तय हो चुके हैं। जिसके बाद 12 दिसंबर को कोर्ट ने फैसला सुनाने के लिए तारीख दी थी। कोर्ट के फैसले को लेकर दोषी युवक तनाव में था। युवक को घरवालों ने बताया कि केस को लेकर तनाव तो था ही, पीड़ित के परिजन केस वापस लेने के लिये दो लाख की डिमांड कर रहे थे। वह कहते थे कि दो लाख दे दो, केस वापस ले लेंगे। जिसके चलते युवक मे फांसी लगाकर जान दे दी।

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned