समाजसेवियों ने बढ़ाए हाथ, ताकि ईद की सेवंई से महरूम न रहें गरीबों के बच्चे

मजदूर और जरूरतमंद लोगों के बच्चे ईद की सेवइयों से महरूम न रहे इसके लिए ऐसे लोगों को सेवई, शक्कर और मावा का वितरण किया गया

By: Karishma Lalwani

Published: 23 May 2020, 12:43 PM IST

लखीमपुर खीरी. मजदूर और जरूरतमंद लोगों के बच्चे ईद की सेवइयों से महरूम न रहे इसके लिए ऐसे लोगों को सेवई, शक्कर और मावा का वितरण किया गया। पिछले लगभग दो माह से देश में लात डाउन है। लोग घर में रहकर इस महामारी से लड़ाई लड़ रहे हैं। तमाम ऐसे गरीब मजदूर, रिक्शा, ठेले वाले लोग हैं जिनके घर में खाने को भी नहीं है। सरकार के साथ-साथ सामाजिक लोग ऐसे लोगों की मदद में लगे हुए हैं। रमजान का महीना खत्म होने को है। बहुत से गरीब लोग हैं जिनके घर ईद की सेवइयों का भी इंतजाम नही है। ऐसे गरीब लोगों की मदद के लिए शहर के मोहल्ला नई बस्ती निवासी पुलिस विभाग से रिटायर मुग़ल-ए-आजम और उनके बेटे छात्र वारिस ने मदद का बीड़ा उठाया और सेवई, शकर व मावा के पैकेट बनवाकर तीन दिन तक बांटे है। जिससे इन गरीब लोगों के बच्चे ईद की सेवई से महरुम ना रह जाए।

इसके अलावा इन्होंने लाकडाउन के पहले दिन से ही गरीबों को अब तक लगातार खाद्य सामग्री भी बांटी है। इस खाद्य सामग्री लगभग 12 किलो का कच्चा राशन जैसे आटा, चावल, दाल, आलू, प्याज, मसाले, तेल आदि मौजूद है। इस खाद सामग्री से जरूरतमंदों को काफी राहत पहुंची है और उनके घर कस चूल्हा चला चल सका है।

ये भी पढ़ें: आम के शौकीनों के लिए खुशखबरी, मंडी पहुंची दशहरी की पहली खेप

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned