लखीमपुर हिंसा में मारे गए कार्यकर्ताओं को बीजेपी देगी शहीद का दर्जा, कानून मंत्री की घोषणा के बाद गरमाई सियासत

कानून मंत्री यूपी बृजेश पाठक ने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के ड्राइवर हरिओम मिश्रा और बीजेपी के मंडल मंत्री शुभम मिश्रा के परिवार से मुलाकात की। वहीं, उन्होंने घटना में मारे गए जिले के अन्य 4 लोगों के परिजनों से मुलाकात नहीं की। इनमें दो किसान नछत्तर सिंह और लवप्रीत सिंह के अलावा बीजेपी कार्यकर्ता श्याम सुंदर निषाद और पत्रकार रमन कश्यप शामिल हैं।

लखीमपुर खीरी. तिकुनिया कांड में मारे गये पार्टी कार्यकर्ताओं को बीजेपी शहीद का दर्जा देगी। लखीमपुर में मृतक भाजपा कार्यकर्ताओं के परिजनों से यूपी के कैबिनेट मंत्री बृजेश पाठक ने मुलाकात की। कहा, बीजेपी सदैव परिवार के साथ खड़ी है। उन्हें पार्टी में शहीद का दर्जा दिया जाएगा। जल्द ही दोषियों के गिरफ्तारी की बात भी कही। उधर, हिंसा में मारे गये बहराइच जिले के दो किसानों के नाम पर सिखों ने गांव और सड़क का नाम बदलने की मांग की है। कानून मंत्री की घोषणा के बाद उत्तर प्रदेश में सिसायत गरमा गई है।

कानून मंत्री यूपी बृजेश पाठक ने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के ड्राइवर हरिओम मिश्रा और बीजेपी के मंडल मंत्री शुभम मिश्रा के परिवार से मुलाकात की। वहीं, उन्होंने घटना में मारे गए जिले के अन्य 4 लोगों के परिजनों से मुलाकात नहीं की। इनमें दो किसान नछत्तर सिंह और लवप्रीत सिंह के अलावा बीजेपी कार्यकर्ता श्याम सुंदर निषाद और पत्रकार रमन कश्यप शामिल हैं। मंत्री बृजेश पाठक सिर्फ दो भाजपा कार्यकर्ताओं के घर ही क्यों गये? इस उन्होंने कहा कि वहीं घटना में मारे गए अन्य लोगों के परिवार से मुलाकात के सवाल पर बृजेश पाठक ने कहा कि हालात सामान्य होने पर वह मिलने जरूर जाएंगे।

गुरु सिंह सभा के जिला अध्यक्ष सीएम योगी लिखा पत्र
बहराइच के गुरुद्वारा गुरुसिंह सभा के जिला अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर मांग की है कि मृतक किसान गुरुविंदर और दलजीत के नाम से गांव और सड़क का नामकरण किया जाये। गुरुविंदर के गांव मोहर्निया का नाम बदलकर गुरुविंदर नगर कर दिया जाए, वहीं बंजारन टाडा के निवासी दलजीत सिंह के नाम एक सड़क का नामकरण करने की मांग की गई है।

एसआईटी ने आशीष मिश्रा के साथ रिक्रिएट किया क्राइम सीन
लखीमपुर खीरी कांड की जांच कर रही एसआईटी ने गुरुवार को केंद्रीय मंत्री के बेटे आशीष मिश्रा और उनके दोस्त अंकित दास सहित चार आरोपियों की मौजूदगी में अपराध स्थल पर जाकर क्राइम सीन रिक्रिएट किया। क्राइम सीन रिक्रिएट प्रक्रिया में आशीष मिश्रा और अंकित दास के अलावा गनमैन लतीफ और ड्राइवर शेखर भारती भी शामिल रहे। इस दौरान बड़े अधिकारी भी मौजूद थे।

यह भी पढ़ें : लखीमपुर खीरी में राकेश टिकैत का ऐलान- नहीं हुई केंद्रीय मंत्री की बर्खास्गी और गिरफ्तारी तो होगा बड़ा आंदोलन

Show More
Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned