शराब के लती जीजा ने मायके में फेंकी विस्फोटक सामग्री, पत्नी से भी झगड़ा

विस्फोटक फेंकने के चार दिन बीतने के बाद भी पुलिस ने न तो आरोपी के खिलाफ न तो मामला दर्ज किया और न ही उसकी गिरफ्तारी की गई। जिसके बाद गुस्साए परिजनों ने अन्य ग्रामीणों के साथ एसपी कार्यालय जाकर ज्ञापन देकर कार्रवाई की मांग उठाई।

By: Karishma Lalwani

Published: 28 Oct 2020, 04:15 PM IST

ललितपुर. विस्फोटक फेंकने के चार दिन बीतने के बाद भी पुलिस ने न तो आरोपी के खिलाफ न तो मामला दर्ज किया और न ही उसकी गिरफ्तारी की गई। जिसके बाद गुस्साए परिजनों ने अन्य ग्रामीणों के साथ एसपी कार्यालय जाकर ज्ञापन देकर कार्रवाई की मांग उठाई। मामला थाना बानपुर क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम कचनोंदा कला का है। ग्राम कचनोदा कला निवासी कुअंर लाल ने अपनी रिश्तेदार की शादी कोतवाली महरौनी के अंतर्गत के ग्राम पड़वा निवासी राम किशन से की थी। लेकिन रामकिशन शराब के नशे में अपनी पत्नी के साथ गाली गलौज कर मारपीट करता था व उसका उत्पीड़न कर ससुराल से धन की मांग करता था। जिसको लेकर कई बार मायके पक्ष ने पुलिस में शिकायत कराई लेकिन पुलिस द्वारा आपसी समझौते के आधार पर दो बार दोनों पति पत्नी को एक साथ रहने के लिए राजी कर लिया और उसकी बहन को ससुराल भेज दिया।

पत्नी को किया परेशान

इन सबके बावजूद रामकिशन अपनी आदतों से बाज नहीं आया और वह अपनी पत्नी को फिर परेशान करने लगा। जिस पर उसका भाई कुंवर लाल अन्य रिश्तेदारों की सहमति से अपनी बहन को अपने घर लेकर आ गया जो पिछले एक महीने से यही रह रही है। चार दिन पूर्व उसके बहनोई रामकिशन अपनी पत्नी को जान से मारने की नियत से उसके घर आकर उसके ऊपर विस्फोटक सामग्री फेंक दी जिसकी चपेट में आकर पत्नी की भाभी कलाबती गंभीर रूप से घायल हो गई। परिजनों ने थाना बानपुर पुलिस को लिखित रूप से चार दिन पूर्व शिकायती पत्र दिया था और कार्यवाही की मांग उठाई थी। लेकिन थाना बानपुर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ नहीं कोई कार्यवाही नहीं की और ना ही उसकी गिरफ्तारी हुई। जिससे परेशान होकर सभी परिजनों के साथ अन्य ग्रामीण पुलिस अधीक्षक कार्यालय पर पहुंचे जहां पर वहां में पुलिस अधीक्षक के नाम एक ज्ञापन देकर उक्त पूरे मामले में समुचित कार्यवाही कर आरोपी की गिरफ्तारी की मांग उठाई।

नहीं छोड़ा परेशान करना

इस मामले में पीड़ित भाई कुमार लाल का कहना है कि इसके पहले भी कई बार पुलिस से शिकायतें की गई थी। लेकिन पुलिस ने समझौता करा दिया लेकिन उसका जीजा अपनी हरकतों से बाज नहीं आया और उसने बहन को परेशान करना नहीं छोड़ा। जिस कारण से हम अपने घर ले आए थे और जीजा रंजिश रखने लगा था। उसने कहा कि इस कारण जीजा ने उसके घर पर विस्फोटक सामग्री फेंक थी जिससे मेरी पत्नी घायल हो गई।

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned