घटिया किस्म की डाली गई पाइप लाइन की लीकेज बनी ग्रामीणों की मुसीबत

- लीकेज के कारण आम रास्ते में कीचड़ मचने से निकलना हुआ दूभर
- कई बार बाइक सवार साइकिल सवार और पैदल निकलने बाले गिरकर हो चुके चोटिल
- कई बार शिकायती पत्र देने के बाद भी नहीं टूटी अधिकारियों की नींद.

ललितपुर. कस्बा जखौरा में सरकार की पाइप पेयजल योजना के तहत पानी की टंकी का निर्माण कराया गया एवं गांव में पाइप लाइन डालकर घर-घर तक शुद्ध पेयजल पहुंचाने की व्यवस्था भी की गई । मगर इस योजना में ठेकेदार और अधिकारियों की मिली भगत से घटिया किस्म के पाइपों को डाला गया और लापरवाही पूर्वक पाइप लाइन डालकर इतिश्री कर ली, जिसके चलते ग्रामीण पेयजल के संकट से जूझ रहे हैं। गांव में डाली गई घटिया पाइप लाइन में जगह-जगह लीकेज है, जिस कारण घरों तक या तो पानी नहीं पहुंच रहा है या बहुत कम मात्रा में पानी पहुंच रहा है, जिससे ग्रामीणों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इससे बड़ी परेशानी का सामना ग्रामीणों को पाइप लाइन लीकेज के कारण करना पड़ रहा है, जिससे गांव की सड़कों पर पानी भर रहा है और पानी भरने के कारण सड़कों पर कीचड़ जमा हो गया है। पूरे गांव में कई जगह पाइप लाइन का लीकेज बना हुआ है, खासतौर पर छोटे बाजार तथा थाने के पास राजघाट तिराहे पर पाइप लाइन के लीकेज होने की वजह से हमेशा ही कीचड़ मचा रहता है। जिस कारण मोटरसाइकिल सवार साइकिल सवार तथा पैदल निकलने वाले ग्रामीणों को बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है । कई बार तो इस कीचड़ में फंस कर वह गिरे हैं और चोटिल हुए हैं । ग्रामीणों का कहना है कि कई बार शिकायती पत्र देने के बाद भी प्रशासन ने कोई कार्यवाही नहीं की और न ही ठेकेदार ने लीकेज पाइप लाइन को सुधारने का काम किया। इस मामले में छोटे बाजार के दुकानदारों का कहना है कि जिस दिन से पाइप लाइन डाली गई उसी दिन से लीकेज बना हुआ है । जिस कारण सड़क पर पानी भर जाता है और मिट्टी की अधिकता के कारण यहां पर हमेशा ही कीचड़ मचा रहता है। जिस कारण यहां से निकलने में काफी परेशानी होती है कई बार तो यहां राहगीर गिरकर चोटिल हुए हैं । तो वहीं तालबेहट तिराहा थाने के पास के निवासियों और दुकानदारों का कहना है कि यहां पर पाइप लाइन डालने के बाद से ही हमेशा बड़ी मात्रा में कीचड़ रहता है । यहां पर पक्की सड़क नहीं बनाई गई और पाइप लाइन डालने के लिए जो गड्ढे खोदे गए थे वह मिट्टी सड़कों पर बिखरी हुई है । पाइप लाइन लीकेज के कारण यहां पर काफी कीचड़ बना रहता है जिससे ग्रामीणों को निकलने में खासी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।
गांव के हालात काफी बदतर हैं जिससे साफ जाहिर होता है कि अधिकारियों की मिलीभगत से गांव में घटिया पाइप लाइन डाली गई है । जिस कारण हमेशा लीकेज बना रहता है और सरकार की घर तक शुद्ध पानी पहुंचाने की योजना को ठेकेदार अधिकारियों द्वारा पलीता लगाया जा रहा है।

Abhishek Gupta Desk/Reporting
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned