दबंगों ने निजी स्वार्थ के चलते यात्री प्रतिक्षालय तोड़ा, सरकारी सम्पत्ति को पहुंचाया नुकसान

- ट्रैक्टर से यात्री प्रतिक्षालय में टक्कर मारकर कर दिया धरासाई

By: Neeraj Patel

Published: 18 Feb 2021, 09:21 PM IST

ललितपुर. तालबेहट कोतवाली क्षेत्रान्तर्गत ग्राम कडेसरा कलां में गांव के कुछ दबंग लोगों द्वारा अपने निजी स्वार्थ के चलते सरकार द्वारा ग्रामीणों की सुविधा के लिए लाखों रुपए की कीमत से बने यात्री प्रतीक्षालय को ट्रैक्टर की ट्राली से टक्कर से तोडक़र धरासाई कर दिया गया। ग्राम सभा कड़ेसरा कलां द्वारा लाखों रुपये की लागत से पुराने पेट्रोल पंप के समीप एक यात्री प्रतीक्षालय का निर्माण कराया गया था। जहां कुरमाई , रैकना , खैरापति मंदिर, चकई मजरा से आने वाले राहगोर वाहन के इंतजार के लिए रुकते थे।

ग्रामीणों का कहना है कि इस यात्री प्रतीक्षालय के पीछे की जमीन को एक दबंग ने खरीद लिया है। वह जमीन पर दुकानों का निर्माण करना चाहता था, लेकिन प्रतीक्षालय सामने होने से उसका मकसद पूरा नहीं हो पा रहा था। इसी के चलते उक्त प्रतिक्षालय को रात में ट्रैक्टरों को ठोकर मार कर क्षतिग्रस्त कर ध्वस्त कर दिया गया।

उल्लेखनीय है कि पूर्व में भी उक्त दबंग द्वारा कई बार ट्रैक्टरों की टक्कर से सरकारी प्रतिक्षालय को ध्वस्त करने का काफी प्रयास किया गया था व उक्त मामले में कई समाचार पत्रों में भी उक्त षडयंत्र व इस प्रकार का कृत्य समाचार पत्रों की सुर्खीया बना था व स्थानीय जनप्रतिनिधियों के हस्तक्षेप के चलते वह मंसूवों में कामयाब नही हो सका,लेकिन वर्तमान दौर में चल रही त्रिस्तरीय चुनावों की प्रक्रीया के तहत भंग हो चुके कार्यकालों के पश्चात उक्त दबंगों ने अपना स्स्टिम बनाते हुए बेखौफ होकर उक्त शासकीय निर्माण को अपने निजी निर्माण की तरह रात के अन्धेरे में चोरी छुपे ध्वस्त कर मिटटी में मिला दिया।

अमल में लाई जाएगी उचित कार्रवाई

इस सम्बन्ध में जब उपजिलाधिकारी अनिल कुमार से मोबाइल के माध्यम से बात कर उक्त प्रकरण की जानकारी दी गई तो उन्होंने अपना वक्तव्य देते हुए कहा कि उक्त प्रकरण में दोषि व्यक्तियों के विरूद्ध उचित कार्यवाही अमल में लाते हुये किसी भी दशा में नहीं बख्शा जाएगा व मामले की जांच करवाकर दोषी पाए जाने पर उचित कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned