जिलाधिकारी ने टटोली विकास कार्य की नब्ज, चौपाल लगाकर ग्रामीणों से हुए रूबरू

जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह ने भ्रमण के दौरान ग्राम पंचायत में स्वच्छ भारत मिशन के तहत निर्माणाधीन शौचालयों एवं प्रधानमंत्री आवासों का निरीक्षण किया।

By: Mahendra Pratap

Published: 09 Dec 2017, 05:53 PM IST

ललितपुर. जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह ने अपने संध्याकालीन भ्रमण के दौरान ग्राम पंचायत म्यावं में स्वच्छ भारत मिशन के तहत निर्माणाधीन शौचालयों एवं प्रधानमंत्री आवासों का निरीक्षण किया तथा निर्माणाधीन कार्यों को शीघ्रता से पूर्ण करने के निर्देश दिए। इसके उपरान्त जिलाधिकारी की अध्यक्षता में संध्याकालीन जन चौपाल का आयोजन किया गया। चौपाल के दौरान जिलाधिकारी ने उपस्थित ग्रामवासियों से उनकी समस्याओं के बारे में जानकारी ली एवं प्रत्येक विभाग द्वारा ग्राम में कराए गए विकास कार्यों की समीक्षा की। बताया गया कि ग्राम म्यांव में राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन के 73, निराश्रिम महिला पेंशन के 39 तथा विकलांग पेशन के 03 लाभार्थी हैं जिन्हें नियमित रूप से पेंशन का लाभ मिल रहा है।

राशनकार्डों की समीक्षा

चौपाल में बताया गया कि ग्राम में कोटे की दुकान स्थापित हैं तथा कोटेदार श्रीमती सीमा देवी खाद्यान्न का वितरण करती हैं। उन्होंने बताया कि ग्राम में कुल 512 राशनकार्ड धारक हैं जिनमें से 466 पात्र गृहस्थी तथा 46 अन्त्योदय कार्ड धारक हैं।

मनरेगा की समीक्षा

चौपाल के दौरान उपायुक्त मनरेगा द्वारा बताया गया कि ग्राम में 406 जॉबकार्ड धारक हैं, जिनमें से 272 जॉबकार्डधारक वर्तमान में सक्रिय हैं। वित्तीय वर्ष 2017-18 का कुल लेबर बजट 411950 रूपए है जो कि शत-प्रतिशत व्यय किया जा चुका है। यह भी बताया गया कि ग्राम में अब तक कुल 2180 मानव दिवस सृजित किए जा चुके हैं। ग्राम में स्थापित हैण्डपम्पों की समीक्षा के द्वारा जिलाधिकारी को अवगत कराया कि ग्राम में कुल 52 हैण्डपम्प स्थापित हैं। सभी हैण्डपम्प चालू हालत में हैं। इस दौरान कुछ ग्रामवासियों द्वारा हैण्डपम्प खराब होने की शिकायत की गई, जिस पर जिलाधिकारी ने जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी पीयूष चन्द्र राय को ग्राम में स्थापित हैण्डपम्पों का पुनः निरीक्षण करने के आदेश दिए।

चिकित्सा विभाग की समीक्षा

स्वास्थ समीक्षा के दौरान मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 प्रताप सिंह ने अपने विभागीय योजनाओं की जानकारी उपस्थित ग्रामवासियों को दी। जिलाधिकारी ने एएनएम एवं आशा को बुलाकर ग्राम में उनके द्वारा किए जाने वाले कार्यों की जानकारी ली, जिस पर बताया गया कि ग्राम में एक मात्र एएनएम श्रीमती सूर्येश तथा एक आशा श्रीमती अर्चना मिश्रा एएनएम सेन्टर पर तैनात हैं। उन्होंने यह भी बताया कि ग्राम में गर्भवती महिलाओं की संख्या 34 तथा 43 धात्री महिलाएं हैं। महिला एवं बाल विकास विभाग की समीक्षा के दौरान बताया गया कि ग्राम में कुल 03 आंगनबाड़ी केन्द्र संचालित हैं, जिनमें आंगनबाड़ी कार्यकत्री श्रीमती लक्ष्मी, श्रीमती पुष्पा एवं श्रीमती सुधा तथा सहायिका श्रीमती ममता, श्रीमती जूली तथा श्रीमती उमा कार्यरत हैं।

प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा के दौरान बताया गया कि वित्तीय वर्ष 2017-18 में ग्राम पंचायत म्यावं में तीन लाभार्थी श्री फुन्दा पुत्र मौजी, श्री खेमचन्द्र पुत्र डुम्मा एवं श्री रग्गा पुत्र मौजी चयनित हुए हैं जिनके आवासों का कार्य पिलंग स्तर तक हो चुका है तथा शेष कार्य जल्द ही पूर्ण कर लिया जाएगा।

स्वच्छ भारत मिशन की समीक्षा

बताया गया कि ग्राम म्यांव में कुल 556 परिवार निवास करते हैं जिनमें से 80 परिवार पूर्व से ही शौचालय युक्त हैं तथा 476 परिवार शौचालय विहीन हैं, जिनमें से 92 परिवार सक्षम हैं एवं 384 परिवार पात्रता की श्रेणी में आते हैं। यह भी बताया गया कि ग्राम पंचायत म्यांव हेतु 155 शौचालयों के निर्माण हेतु धनराशि प्राप्त हो चुकी है, जिनमें से 131 का निर्माण कार्य पूर्ण हो चुका है तथा शेष 24 शौचालय निर्माणाधीन अवस्था में हैं।

चौपाल के दौरान चौपाल में उपस्थित ग्रामवासियों के मध्य विभिन्न प्रकार की पेंशन योजनाओं जैसे विकलांग पेंशन, विधवा पेंशन, वृद्धावस्था पेंशन तथा राशनकार्डों की लिस्ट को पढ़कर सुनाया एवं ग्राम में कराए गए विकास कार्यों का मौखिक सत्यापन भी कराया गया। चौपाल के दौरान लगभग सभी सम्बंधित अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे।

Show More
Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned