छापेमारी के दौरान पकड़ा गया एक और फर्जी डॉक्टर

छापेमारी के दौरान पकड़ा गया एक और फर्जी डॉक्टर

Abhishek Gupta | Publish: Sep, 09 2018 09:01:00 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

प्रभारी निरीक्षक ने फर्जी डॉक्टर के खिलाफ कराया मामला दर्ज.

ललितपुर. मौसम में बदलाव के साथ ही पूरे जनपद में फर्जी डॉक्टरों की बाढ़ सी आ गई है। हालांकि जनपद के कई गांव में कई फर्जी डॉक्टर अपनी क्लीनिक चलाकर अपनी जेब भरने में लगे हुए हैं। लगभग हर एक गांव में फर्जी डॉक्टर बैठे हुए हैं, जिनके पास ना तो कोई शिक्षा है और ना ही कोई डिग्री। उसके बावजूद वह अनपढ़ नासमझ भोले-भाले ग्रामीणों को अपनी बातों में बहला-फुसलाकर उनका इलाज करने में लगे हुए हैं। जिससे गांव में बड़ी-बड़ी घटनाएं भी हो जाती हैं, इसकी शिकायत जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग को लगातार मिल रही है। स्वास्थ्य विभाग ने मामले को संज्ञान में लेते हुए ग्राम विरधा की प्राप्त शिकायत पर प्रभारी अधिकारी के साथ एक टीम को रवाना किया। जब टीम सागर रोड पर स्थित ग्राम विरधा पहुंची तो वहां पंजाब नेशनल बैंक के सामने एक व्यक्ति लोगों का इलाज करने में लगा हुआ था।

ये भी पढ़ें- पूर्व कैबिनेट मंत्री का हैरान करने वाला बयान, कहा SC/ST एक्ट में सीएम को जेल भेजा जाना चाहिए

मौके से प्रभारी निरीक्षक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र विरधा के डॉक्टर श्याम सिंह ने उसे रंगे हाथों मरीजों का इलाज करते हुए पकड़ा। पूछताछ के दौरान उसने अपना नाम एस के अधिकारी पुत्र जती अधिकारी बताया। प्रभारी निरीक्षक डॉक्टर ने इस मामले में सदर कोतवाली पुलिस को एक तहरीर देकर पूरे मामले से अवगत कराया। कोतवाली पुलिस ने मामले को संज्ञान में लेकर 420 15 (3) इंडियन मेडिकल काउंसिल एक्ट के तहत मामला पंजीकृत कर कार्यवाही की है।

ये भी पढ़ें- सपा के दिवगंत नेता दर्शन सिंह यादव की आत्मा की शांति के लिए कराया गया हवन, रामगोपाल समेत कई हुए भावुक

ये ही पढ़े- इस कैबिनेट मंत्री का बहुत बड़ा बयान, कहा- 2019 में नही होगा इलेक्शन, सभी दलों में मचा हड़कंप

ये भी पढ़े- IPS सुरेंद्र दास के निधन के बाद भावुक सीएम योगी व यूपी डीजीपी ने की बहुत बड़ी घोषणा, यूपी पुलिस में हड़कंप

Ad Block is Banned