हाई टेंशन विद्युत लाइन की चपेट में आने से उजड़ा गरीब का आशियाना, गरीब परिवार ने राज्यमंत्री से लगाई आर्थिक मदद की गुहार

- कहीं भी सुनवाई न होने पर परेशान होकर पीड़ित दम्पत्ति मासूमों के साथ पहुंचा राज्यमंत्री के पास
- राज्य मंत्री ने पीड़ित परिवार को दिया समुचित सहायता दिलाने का भरोसा

By: Neeraj Patel

Published: 12 Nov 2020, 02:20 PM IST

ललितपुर. जहां एक ओर धन्य धान की माता लक्ष्मी का पर्व दीपावली जनपद में बड़े ही धूमधाम से मनाया जा रहा है। लोग अपने निवास स्थान घरों को रंगाई पुताई करा कर सजाने संवारने का काम कर रहे हैं, तो वहीं दूसरी ओर जनपद में एक गरीब परिवार ऐसा भी है जो पिछले कई महीनों से इस चौखट से उस चौखट पर अपने आशियाना के लिए गुहार लगाता हुआ दर-बदर इसलिए घूम रहा है। विद्युत विभाग की लापरवाही के चलते हाईटेंशन विद्युत तार टूटकर उसके आशियाने पर गिरा और घर जलकर खाक हो गया लेकिन उसकी कहीं सुनवाई नहीं हो रही। तब हर थक कर पीड़ित परिवार श्रम सेवायोजन राज्य मंत्री मनोहर लाल पंथ उर्फ़ मन्नू कोरी की शरण में उस समय जा पहुंचा। जब राज्यमंत्री मुख्यमंत्री के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के बाद कलेक्ट्रेट से बाहर निकल रहे थे। पीड़ित परिवार ने जब मंत्री से आर्थिक सहायता दिलाने की गुहार लगाई तो उन्होंने पीड़ित परिवार को समुचित आर्थिक सहायता दिलाने का आश्वासन भी दिया।

गरीब के आशियाना उजड़ने का ताजा मामला थाना गिरार के अंतर्गत स्थानीय गांव का है। मिली जानकारी के अनुसार गिरार निवासी हेमराज अहिरवार पुत्र बाबूलाल का गरीब अपनी पत्नी और अपने दो मासूम बच्चों के साथ झोपड़ीनुमा घर बनाकर अपनी जिंदगी गुजर बसर कर रहा था । झोपड़ी के ऊपर से निकली हाईटेंशन विद्युत लाइन अचानक टूट कर 13 अक्टूबर 2020 को उसके घर पर गिरी और उसकी चपेट में आने से उसका आशियाना जलकर खाक हो गया।

इसके साथ ही उसमें रखा हुआ घर गृहस्ती का पूरा सामान जल गया। जिसके बाद वह अपनी पत्नी और दो मासूम बच्चों के साथ तहसील मडावरा के अधिकारियों से लेकर जिला मुख्यालय जिला अधिकारी तक आर्थिक सहायता की गुहार लगाता घूम रहा लेकिन उसकी सुनवाई नहीं हो रही वह खुले आसमान के नीचे अपने मासूम बच्चों के साथ जिंदगी की गुजर बसर कर रहा है। आज भी जब वह जिलाधिकारी के दरबार में आर्थिक सहायता के लिए गुहार लगाने आया था उसी समय मुख्यमंत्री के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग करके श्रम सेवायोजन राज्यमंत्री मनोहरलाल पन्थ उर्फ मन्नुकोरी निकले और गरीब परिवार ने उनसे उम्मीद की आश लगाकर आर्थिक मदद की गुहार लगाई जिस पर मंत्री जी ने पीड़ित परिवार को आर्थिक सहायता दिलाने का आश्वासन भी दिया।

खुले आसमान के नीचे जीवन यापन करने को मजबूर

इस मामले में हेमराज की पत्नी सपना ने बताया कि विद्युत विभाग की लाइन से उसका घरवार घर गृहस्ती के सामान के साथ जलकर खाक हो गया। तभी से वह लगातार परेशान हो रही है और अधिकारियों की इस चौखट से उस चौखट तक गुहार लगाती घूम रही है लेकिन अभी तक उसे आर्थिक सहायता प्राप्त नहीं हो पाई जबकि उसके मकान को जले लगभग एक महीने से ज्यादा का समय हो गया। वह अपने पति और मासूम बच्चों के साथ खुले आसमान के नीचे जीवन यापन करने को मजबूर है लेकिन उसकी कहीं भी कोई सुनवाई नहीं हो रही। आज उसने अपने क्षेत्रीय विधायक राज्य मंत्री से आर्थिक मदद की गुहार लगाई है। इस मामले में देखने वाली बात यह होगी कि श्रम सेवायोजन राज्य मंत्री मन्नू कोरी से आर्थिक मदद की गुहार लगाने के बाद उसे मदद दिलाने का आश्वासन तो मिला, लेकिन कहीं उनका वादा हवा-हवाई तो नहीं हो जाएगा क्या पीड़ित परिवार को आर्थिक सहायता मिलेगी जिससे वह अपना आशियाना दोबारा बना सकेगा या फिर वह इस दरवाजे से उस दरवाजे तक यूं ही गुहार लगाते भटकता रहेगा।

Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned