वो दिवाली की छुट्टियों पर घर आया था, तीन दिन बाद गोविंद सागर बांध में मिला शव

-मुंह और हाथ पैर कपड़े से बंधे होने से हत्या की संभावना
-झांसी में रहकर कक्षा 9वीं की पढ़ाई कर रहा था मृतक

By: Mahendra Pratap

Published: 17 Nov 2020, 04:54 PM IST

ललितपुर. तीन दिन पूर्व अपने घर से अचानक गायब हुए एक नाबालिग किशोर का शव गोविंद सागर बांध में साइफन के पास पानी में उतरता हुआ मिलने से इलाके में हड़कंप मच गया। प्रत्यक्षदर्शियों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने मृतक के शव को अपने कब्जे में लेकर पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया। प्रथम दृष्टया यह हत्या का मामला प्रतीत हो रहा था क्योंकि नाबालिग किशोर की और हाथ पैर कपड़े से बने हुए थे।

बताया गया कि सदर कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम सतरवांस दयाराम पटेल ललितपुर के पटेल नगर में परिवार के साथ रहते हैं। उनका पुत्र पुष्पेंद्र पटेल (16 वर्ष) झांसी में रहकर कक्षा नौवीं की पढ़ाई कर रहा था और दीपावली की छुट्टी पर 12 नवंबर को अपने घर आया था। जिसके बाद 13 नवंबर की शाम 7 बजे से घर से निकला था। तब से वह घर लौट कर नहीं आया तो परिजनों ने गुमशुदगी की सूचना कोतवाली पुलिस को दी थी। तीन दिन बाद सोमवार को उसका शव नगर क्षेत्र में स्थित गोविंद सागर बांध में साइफन के पास पानी में उतराते हुए लोगों ने देखा। जिसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर शव को पानी से बाहर निकला तो सबके होश उड़ गए। क्योंकि शव के दोनों हाथ-पैर रस्सी से बंधे थे। मुंह कपड़ा से बंधा था। फिलहाल पुलिस ने मृतक का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया।

मृतक के मामा ने बताया कि भांजा पुष्पेंद्र झांसी में 9वीं कक्षा में पढ़ता था और 12 नवंबर को ही छुट्टियों पर घर आया था। उसकी हत्या किन लोगों ने क्यों की? यह नहीं पता है। पुलिस अधीक्षक कैप्टन एमएम बेग ने बताया कि घटना दुखद है। घटना के खुलासे के लिए टीमें गठित कर दी गई हैं।

Show More
Mahendra Pratap Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned