एसपी कार्यालय में आये अनपढ़ व कम पढ़े-लिखे लोगों की मदद करेगा हेल्पडेस्क

एसपी कार्यालय में आये अनपढ़ व कम पढ़े-लिखे लोगों की मदद करेगा हेल्पडेस्क

Akansha Singh | Updated: 16 Jul 2019, 10:35:18 AM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

पुलिस अधीक्षक कार्यालय में आये कम पढ़े लिखे अथवा बिना पढ़े लिखे फरियादियों को अधिकारियों तक पहुंचने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता था।

ललितपुर. पुलिस अधीक्षक कार्यालय में आये कम पढ़े लिखे अथवा बिना पढ़े लिखे फरियादियों को अधिकारियों तक पहुंचने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता था। जिसको देखते हुए पुलिस अधीक्षक ने कार्यालय के मेन गेट पर एक हेल्पडेस्क का काउंटर खोला है जिससे ऐसे लोगों को खासी मदद मिलेगी। पुलिस अधीक्षक कैप्टन एम एम बेग कुछ ना कुछ नया प्रयोग करते रहते हैं। चाहे पारिवारिक मामलों में नई किरण के द्वारा सैकड़ों परिवारों को एक साथ रहने के लिए हंसी खुशी रवाना किया हो अथवा अपने कर्मचारियों के जन्मदिन पर उन्हें शुभकामना संदेश भेजना हो। अब पुलिस अधीक्षक ने अपने कार्यालय के मुख्य द्वार पर एक हेल्प डेस्क की स्थापना की है। जिस पर आने वाले प्रत्येक आगंतुकों को उस हेल्प डेस्क पर उस व्यक्ति को क्या काम है किस से मिलना है कहां जाना है इस डेस्क पर तैनात कर्मचारी उसकी मदद करेगा। वही यदि पुलिस अधीक्षक से मिलने पहुंचा व्यक्ति उस व्यक्ति कागज और पेन उपलब्ध कराएगा साथ ही साथ यदि वह चाहेगा तो उसका आवेदन पत्र लिखकर भी देगा।

पुलिस अधीक्षक का कहना है कि इससे इस क्षेत्र की गरीब जनता को निशुल्क प्रार्थना पत्र लिखा जा सकेगा । इसके अलावा सबसे बड़ा लाभ यह है कि ज्यादातर कम पढ़े लिखे लोगों को प्रार्थना पत्र लिखने वाले व्यक्ति ऐसी चीजें लिख देते हैं जो उसके साथ घटित ही नहीं है और पुलिस को सिरदर्द साबित हो जाती है। पुलिस अधीक्षक कार्यालय के मुख्य गेट पर स्थापित इस डेस्क पर लगातार लोगों की फरियादियों की भीड़ बनी रहती है ग्रामीण क्षेत्र की जनता ने पुलिस अधीक्षक की इस कार्य की सराहना की।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned