करोड़ों लोगों की रोजी-रोटी छीन रहा ऑनलाइन व्यापार, डरावने हैं राष्ट्रीय जन उद्योग व्यापार संगठन के आंकड़े

ललितपुर पहुंचे राष्ट्रीय जन उद्योग व्यापार संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित गुप्ता ने बताया कि ऑनलाइन व्यापार के कारण करोड़ों लोग बेरोजगार हो जाएंगे

ललितपुर. ऑनलाइन व्यापार से देश के सामने बेरोजगारी का बड़ा संकट खड़ा हुआ है। कई छोटे-छोटे व्यापारियों की दुकानें बंद हो चुकी हैं। व्यापारी आत्महत्या को विवश हैं। ऑनलाइन व्यापार के चलते करोड़ों लोग बेरोजगार हो जाएंगे। यह कहना है राष्ट्रीय जन उद्योग व्यापार संगठन का। राष्ट्रीय जन उद्योग व्यापार संगठन द्वारा 15 दिसंबर 2019 को कानपुर के फूलबाग मैदान से राष्ट्रव्यापी व्यापार बचाओ रथयात्रा का शुभारंभ किया गया। रथयात्रा का मकसद ऑनलाइन ट्रेडिंग के विरोध में समर्थन जुटाना है।

राष्ट्रीय जन उद्योग व्यापार संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित गुप्ता ने ललितपुर में प्रेसवार्ता करते हुए करते हुए कहा कि ऑनलाइन ट्रेडिंग से देश के छोटे व्यापारी खत्म हो रहे हैं या होते नजर आ रहे हैं। परिणामस्वरूप देश में बेरोजगारी का संकट खड़ा हो सकता है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में देश के लगभग 7 करोड़ खुदरा व्यापारी हैं, जो 28 करोड़ लोगों को रोजगार देते हैं। अगर ऐसा ही रहा तो ऑनलाइन व्यापार के कारण एक दिन देश के व्यापारी बेरोजगार हो जाएंगे।

दिल्ली में खत्म होगा जन जागरुकता अभियान
अमित गुप्ता ने बताया कि वर्ष 2008 में 200 करोड़ का ऑनलाइन कारोबार था जो 2019 में बढ़कर 3.50 लाख करोड़ तक पहुंच गया है। ऑनलाइन व्यापार से खुदरा व्यापार समाप्त हो रहा है, जिस कारण कई व्यापारियों ने आत्महत्या तक की है। देश में ऑनलाइन व्यापार की बढ़ती मांग के कारण शहर में छोटे-छोटे व्यापारी बेरोजगार हो चुके हैं। इसकी जन जागरूकता के लिए संगठन की ओर से एक रथयात्रा का शुभारंभ 15 दिसंबर 2019 को कानपुर से किया गया था और इसका समापन दिल्ली में दिसंबर 2020 में किया जाएगा। हम सरकार से मांग करेंगे कि ऑनलाइन व्यापार को समाप्त कराया जाये और खुदरा व्यापार को बढ़ावा दिया जाये, ताकि देश की बढ़ती बेरोजगारी की समस्या का समाधान हो सके।

वीडियो में देखें- प्रेसवार्ता में क्या बोले राष्ट्रीय जन उद्योग व्यापार संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित गुप्ता

Hariom Dwivedi
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned