लोक निर्माण विभाग की जमीन पर अवैध रूप से कब्जा करने का आरोप

लोक निर्माण विभाग की जमीन पर अवैध रूप से कब्जा करने का आरोप

Ruchi Sharma | Updated: 25 Jun 2018, 05:34:08 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

सपा शासन काल में किया गया था कब्जा

ललितपुर. सरकारी जमीनों पर कब्जा करना शायद भूमाफियाओं का पहला अधिकार है ऐसे कई भूमाफिया हैं जो आज भी सरकारी जमीनों पर काविज है । यह कब्जा वही करते है जो सरकार में होते है या फिर उनके करीबी होते है । वह जमीनों पर अवैध रूप से कब्जा करने में नहीं चूकते । जनपद ललितपुर में ऐसे कई उदाहरण है जब शासन सत्ता के बल पर नेताओं ने या उनके चहेतों ने सरकारी जमीनों पर कब्जा कर लिए और जब उनकी शिकायतें की गई तब अधिकारियों ने शिकायतकर्ताओं की नहीं सुनी । और अगर सुनी भी तो महज यह बात कार्रवाई तक पहुंची मगर जमीनों से कब्जे नहीं हटवाए जा सके । ऐसा ही एक ताजा मामला थाना पाली के अंतर्गत ग्राम गोना में सामने आया है ।


यह है पूरा मामला

अवैध कब्जे का मामला थाना नाराहट के अंतर्गत ग्राम गौना में सामने आया है जो कि राजस्व तहसील पाली के अंतर्गत है । जहां के निवासी सुनील कुमार पुत्र सुंदर लाल जैन तथा सरदार सिंह तनय पहाड़ सिंह बुंदेला ने तहसील पाली के उप जिला अधिकारी नरेंद्र सिंह को एक शिकायती पत्र देकर अवगत कराया कि ग्राम गोना में लोक निर्माण विभाग की आरजी संख्या 2039 व 2040 मौजूद है ।

जिसके कुछ भाग पर नारायण सिंह ने अपना मकान बनाकर कब्जा कर लिया है । शेष भाग में खेती कर रहे हैं । जिसकी शिकायतें कई बार की जा चुकी हैं शिकायतों के बाद उक्त मामले में विभागीय जांच भी की गई थी । जांच के बाद लोक निर्माण विभाग के सहायक अभियंता ने 3 अगस्त 2017 को उपरोक्त नारायण सिंह को एक नोटिस जारी किया था जिसमें 7 दिन के अंदर उक्त जमीन से कब्जा हटाने का निर्देश दिया गया था ।

इस नोटिस में लोक निर्माण विभाग ने जांच के बाद स्वयं माना था कि लगभग 139 वर्ग मीटर क्षेत्रफल पर उक्त व्यक्ति ने अनाधिकृत रूप से अपना कब्जा जमाया हुआ है । मगर उसके बाद शासन द्वारा कोई अमल नहीं किया गया । नोटिस जारी होने के 10 माह बाद भी वहां यथास्थिति है इस प्रार्थना पत्र के माध्यम से उन्होंने उपरोक्त जमीन से अतिक्रमण हटा कर तुरंत कार्रवाई करने की मांग की है ।

कब्जा धारी था सत्ता पक्ष का करीबी

अगर सूत्रों की माने तो पता चला है कि लोक निर्माण विभाग की जमीन पर अवैध कब्जा धारी नारायण सिंह पूर्ववर्ती समाजवादी पार्टी की सरकार के नेताओं के करीब रहे हैं और उन्हीं के बल पर उन्होंने यहां कब्जा जमाया हुआ है । मगर आज योगी सरकार में एंटी भू माफिया टास्क फोर्स गठित है अब इस मामले में देखने वाली बात होगी कि योगी सरकार में उपरोक्त व्यक्ति का कब्जा सरकारी भूमि से हटता है या नहीं ।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned