scriptRPF unearths gang stealing railway property in Lalitpur | ललितपुर में आरपीएफ़ ने रेलवे की संपत्ति चुराने वाले गैंग का किया खुलासा | Patrika News

ललितपुर में आरपीएफ़ ने रेलवे की संपत्ति चुराने वाले गैंग का किया खुलासा

रेलवे की संपत्ति चुराने वाले आधा दर्जन शातिर चोरों को दबोचते हुए एक बड़े गैंग का खुलासा ललितपुर में किया गया।

ललितपुर

Updated: April 24, 2022 07:22:18 pm

जनपद में ट्रेनों के तीव्र गति से आवागमन के लिए तीसरी रेल लाइन का काम प्रगति पर है। इस रेल लाइन के लिए रेल पटरियां बिछाई जा रही है तो वही विद्युत केबल भी डाली जा रही है, ताकि ट्रेनों के संचालन में सुगमता हो सके । लेकिन इस डाली गई बेशकीमती विद्युत केबल पर चोरों की नजर पड़ गई और उन्होंने इसे चोरी से काटकर बेचने का काम शुरू कर दिया ।
Symbolic Photo of RPF to Show The Good Work in Railway
Symbolic Photo of RPF to Show The Good Work in Railway
ट्रेन का समान लूटने वालों की तलाश काफी समय से

जनपद में ऐसी वारदातें काफी दिनों से चल रही थी जिन पर आरपीएफ जीआरपी और सिविल पुलिस लगातार नजर बनाए हुए थी और जब चोरी का मामला संज्ञान में आया तब आरपीएफ ने सिविल पुलिस के साथ संयुक्त ऑपरेशन में आधा दर्जन से अधिक शातिर केबिल चोरों और चोरी की केबिल खरीदने वाले कुछ दुकानदारों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। इनके कब्जे से कई मोबाइल फोन और 3 मोटरसाइकिलें भी बरामद हुई है ।
सदर कोतवाली में आरपीएफ़

सदर कोतवाली पुलिस ने आरपीएफ द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर सभी आरोपियों के खिलाफ मामला पंजीकृत करते हुए सभी को जेल भेज दिया है।
मिलीं जानकारी के अनुसार जनपद में झांसी और बीना के बीच तीसरी रेल लाइन के निर्माण का कार्य प्रगति पर है । यह रेल लाइन डल जाने से ट्रेनों के तीव्र गति से संचालन में सुगमता होगी साथ ही यात्रियों को भी अच्छी सुविधाएं मिल सकेंगी। इस दौरान रेल प्रशासन द्वारा नामित ठेकेदारों द्वारा रेल लाइन डलवाई जा रही है, तो वहीं ट्रेनों के संचालन के लिए ओएचई विद्युत के बिल भी डालने का काम चल रहा है जो आमतौर पर बाजार में काफी महंगे दामों पर बिकती है। ट्रेनों संचालन के लिए डाली जा रही बेस कीमती ओएचई केबिल पर चोरों की नजर पड़ गई और उन्होंने अपने सहयोगियों की मदद से तालबेहट के
रेल विभाग की चोरी की ओएचई केबिल बेची

बिजरोठा से ललितपुर के बीच निर्माणाधीन तीसरी लाइन निर्माण कार्य के कई किलोमीटरों की ओएचई केविल चोरी कर लिया यह सिलसिला पिछले कई दिनों से चल रहा था जिस पर आरपीएफ के साथ-साथ क्राइम ब्रांच की भी नजर थी और जैसे ही शातिर चोरों ने चोरी का माल खरीदने वाले दुकानदारों से संपर्क किया और रेल विभाग की चोरी की ओएचई केबिल बेची। बैसे ही सभी छात्र चोर और खरीददार पुलिस की पकड़ में आ गए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: खतरे में MVA सरकार! समर्थन वापस लेने की तैयारी में शिंदे खेमा, राज्यपाल से जल्द करेंगे संपर्क?Maharashtra Political Crisis: एकनाथ शिंदे की याचिका पर SC ने डिप्टी स्पीकर, महाराष्ट्र पुलिस और केंद्र को भेजा नोटिस, 5 दिन के भीतर जवाब मांगाMaharashtra Political Crisis: सुप्रीम कोर्ट से शिंदे खेमे को मिली राहत, अब 12 जुलाई तक दे सकते है डिप्टी स्पीकर के अयोग्यता नोटिस का जवाब"BJP से डर रही", तीस्ता की गिरफ़्तारी पर पिनाराई विजयन ने कांग्रेस की चुप्पी पर साधा निशानाअंबानी परिवार की सुरक्षा को लेकर सुप्रीम कोर्ट कल करेगा सुनवाई, जानिए क्या है पूरा मामलासचिन पायलट बोले-गहलोत मेरे पितातुल्य, उनकी बातों को अदरवाइज नहीं लेताPunjab Budget 2022: 1 जुलाई से फ्री बिजली; यहां पढ़ें पंजाब सरकार के पहले बजट में क्या-क्या है खासमुकुल रॉय ने पश्चिम बंगाल विधानसभा के पब्लिक अकाउंट्स कमेटी के चैयरमैन पद से दिया इस्तीफा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.