साक्ष्य मिटाने के लिए पुत्र का शव फंदे पर लटकाया, न्यायलय के संज्ञान के बाद दर्ज हुआ मामला

साक्ष्य मिटाने के लिए पुत्र का शव फंदे पर लटकाया, न्यायलय के संज्ञान के बाद दर्ज हुआ मामला

Dikshant Sharma | Publish: Apr, 17 2018 09:34:18 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

कोतवाली पुलिस ने न्यायालय के आदेश पर मामला पंजीकृत कर विवेचना शुरू कर दी है।

ललितपुर। थाना जखौरा के स्थानीय कस्बा के नदी मुहल्ला निवासी पहलवान पुत्र भैया लाल विश्वकर्मा ने न्यायालय में एक प्रार्थना पत्र देकर अवगत कराया कि कमल जैन पुत्र बालचंद्र जैन निवासी क्षेत्रपाल मंदिर के पास ने अपने कुछ अज्ञात साथियों के साथ मिलकर उसके पुत्र बृजेंद्र कुमार की गोदान में ले जाकर हत्या कर दी है। तथा साक्ष्य मिटाने के लिए उसके शव को फांसी के फंदे पर लटका कर आत्महत्या साबित करने की कोशिश की गयी है। न्यायालय ने मामले को संज्ञान में लेकर 302, 201, 506 धाराओं में मामला पंजीकृत करने का आदेश कोतवाली पुलिस को दिया है। कोतवाली पुलिस ने न्यायालय के आदेश पर मामला पंजीकृत कर विवेचना शुरू कर दी है।

क्या था पूरा मामला
थाना जखौरा के स्थानीय ग्राम निवासी पहलवान सिंह विश्वकर्मा का बेटा बृजेंद्र कुमार सदर कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत रहने वाले कमल जैन की गोदाम में लकड़ी के फर्नीचर बनाने का काम कर रहा था। वह गोदाम स्टेशन क्षेत्र में स्थित है। कमल जैन अपनी दुकान पर लकड़ी का फर्नीचर बेचने का काम करते हैं जिसको वह अपने गोदाम में मिस्त्रियों द्वारा निर्मित करवाते हैं। इसी सिलसिले में कमल जैन के यहां पहलवान विश्वकर्मा का एक रिश्तेदार पहले से ही काम कर रहा था। वहां काम करने के लिए एक लड़के की जरूरत थी जिस पर पहलवान के रिश्तेदार ने उसके लड़के को वहां काम सीखने के उद्देश्य बुला लिया। वह गोदाम पर रहकर वही काम करता था। एक दिन 4 जून 2017 को वह अचानक सुबह लगभग 9 बजे पहलवान के पुत्र बृजेंद्र को फांसी के फंदे पर लटकता पाया। तत्काल पुलिस को सूचना दी गयी। पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला मुख्यालय भिजवा दिया और लड़के के परिजनों को सूचना दी। जहां कमल जैन का कहना है कि उस लड़के ने किन्ही अज्ञात कारणों के चलते गोदाम में फांसी लगाकर आत्महत्या की है। वही लड़के के पिता पहलवान का कहना है कि गोदाम के मालिक कमल जैन ने उनके पुत्र की हत्या कर साक्ष्य छुपाने के उद्देश्य उसके शव को फांसी के फंदे पर लटका दिया। इससे वह आत्महत्या साबित हो। फिर मामला कुछ भी हो न्यायालय के आदेश पर कोतवाली पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और विवेचना की जा रही है।

Ad Block is Banned