बिजली व्यवस्था ठप्प, मोबाइल टार्च की रोशनी में हुआ मरीज का इलाज

बिजली व्यवस्था ठप्प, मोबाइल टार्च की रोशनी में हुआ मरीज का इलाज

Karishma Lalwani | Updated: 06 Jul 2019, 03:17:18 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

- बिजली व्यवस्था ठप्प होने पर मोबाइल टार्च की रोशनी में हुआ मरीज का इलाज

- तीन बड़े जेनरेटर होे के बाद मोबाइल टार्च की रोशनी में इलाज

ललितपुर. उत्तर प्रदेश सरकार की तमाम कोशिशों के बावजूद कई जिलों में स्वास्थ्य सेवाएं सुधरने का नाम नहीं ले रहीं। ललितपुर के मान्यवर कांशीराम संयुक्त जिला जिला चिकित्सालय में बिजली गुल होने के चलते मरीज का इलाज मोबाइल की रोशनी में किए जाने का मामला सामने आया। विद्युत व्यवस्था फेल होने पर डॉक्टर व अस्पताल में तैनात कर्मचारी मोबाइल टार्च की रोशनी में इंजेक्शन लगाकर मरीजों का इलाज करते हैं। जबकि अस्पताल प्रशासन के पास 3 बड़े जनरेटर हैं बावजूद इसके अस्पताल की विद्युत व्यवस्था बदहाल है।

 

lalitpur

लंबित पड़ा पहले का बिल

मान्यवर कांशीराम संयुक्त जिला चिकित्सालय हमेशा अनियमित्ताओं के घेर में रहता है। यहां अक्सर स्ट्रेचर न होने या मरीज को व्हील चेयर न मिलने की शिकायत रहती है। पिछले कई महीनों से जनपद में विद्युत की आंख मिचोली का खेल चल रहा है। विद्युत की आपूर्ति लगभग 10 से 12 घंटे की है, जबकि सरकार दावे कर रही है कि जिला मुख्यालय पर विद्युत की सप्लाई 24 घंटे की है। विद्युत व्यवस्था फेल होने के बाद जिला चिकित्सालय की इमरजेंसी विद्युत व्यवस्था भी बदहाल स्थिति में है। जिला अस्पताल में 3 बड़े जनरेटर होने के बावजूद कटौती के समय यहां तैनात डॉक्टर मोबाइल टार्च की रोशनी में इलाज करने को मजबूर हैं। इस मामले में डॉक्टर संजय वासवानी ने बताया कि जो संस्था जेनरेटर सुधारनेका काम करती है, उसका पहले का बिल लंबित है। बकाया बिल न मिलने पर जेलरेटर का काम रुका हुआ है। उन्होंने बताया कि बदहाल व्यवस्था को ठीक कराने के लिए शासन को पत्र लिखकर अवगत कराया गया है।

ये भी पढ़ें: सबसे महंगी बिजली दरों वाला राज्य होगा उत्तर प्रदेश, दो महीने का बिल बकाया तो कटेगा कनेक्शन

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned