पैदल गस्त के दौरान एक्शन मोड में पुलिस, पुलिस लिखे वाहनों की हुई चेकिंग

Karishma Lalwani

Updated: 26 Jun 2019, 12:29:01 PM (IST)

Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

ललितपुर. शासन के निर्देशानुसार शहर में शांति व्यवस्था तथा कानून व्यवस्था के साथ लोगों में पुलिस के प्रति सुरक्षा का विश्वास जगाने के लिए पुलिस अधीक्षक कैप्टन एमएम बेग ने अपनी टीम के साथ देर रात वाहनों की चेकिंग की। इस काफिले में क्षेत्राधिकारी राजा सिंह के साथ कोतवाली प्रभारी और भारी पुलिस बल मौजूद रहा। पुलिस का फुटमार्च शहर के सबसे व्यस्ततम स्टेशन रोड पर केंद्रित रहा। पैदल मार्च में पुलिस अधीक्षक ने उन वाहनों की चेकिंग की, जिन गाड़ियों पर नंबर प्लेट की जगह पुलिस या फिर किसी भी जनप्रतिनिधि के पद नाम अंकित था। साथ ही बिना नंबर की गाड़ियों पर भी नजर रही।

ये भी पढ़ें: up police की नई पहल, अपराध पर लगाम के लिए सारी रात बजेगा 'जागते रहो' का सायरन

पुलिस ने ऐसी सभी गाड़ियों को तत्काल प्रभाव से जप्त कर कोतवाली पहुंचाया और सभी गाड़ियों का चालान भी किया। इतना ही नहीं सभी गाड़ियों के मालिकों को हिदायत दी कि वह यातायात के नियमों का पालन करते हुए अपनी गाड़ियों की नंबर प्लेट पर किसी भी तरह का न तो कोई मोनोग्राम लगाएं और न ही किसी जनप्रतिनिधि का पद नाम लिखें। बल्कि नंबर प्लेट पर आगे और पीछे दोनों तरफ सिर्फ गाड़ी का रजिस्ट्रेशन नंबर ही लिखा जाएगा। पुलिस की इस बड़ी कार्रवाई से शहर के वाहन चालकों में हड़कंप मच गया। खास तौर पर उन वाहन चालकों को परेशानी का सामना करना पड़ा जिनकी नंबर प्लेट या तो स्टाइलिस्ट थी या फिर नंबर प्लेट के साथ पुलिस या फिर किसी जनप्रतिनिधि का पद नाम अंकित था। पुलिस ने एक दर्जन से अधिक दोपहिया वाहनों तथा एक फॉर्च्यूनर कार सपा के राज्यसभा सांसद प्रतिनिधि लिखी हुई गाड़ी को सीज कर चालान किया।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned