पत्नी ने भाई संग पति को उतारा मौत के घाट, अवैध संबंध का था शक

Abhishek Gupta

Updated: 14 Feb 2020, 09:42:04 PM (IST)

Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

ललितपुर. जनपद पुलिस ने एमपी निवासी पत्थर व्यवसाई बहुचर्चित हत्याकांड का खुलासा करते हुए आरोपी पत्नी और ममेरे भाई को गिरफ्तार कर किया। बताया गया है कि पत्थर व्यवसाई की हत्या की साजिश उसकी पत्नी नीतू ने अपने ममेरे भाई सुरेंद्र सिंह तोमर के साथ मिलकर रची थी, जिसमें अन्य साथियों का सहारा भी लिया गया था। इस कांड में वांछित नितिन चौहान सहित उसके दो अज्ञात साथी फरार चल रहे हैं।

मामले का खुलासा करते हुए पुलिस अधीक्षक कैप्टन एमएम बेग ने बताया कि मामला अवैध संबंधों का है। पत्थर व्यवसाई की हत्या उसकी पत्नी, साले और एक अन्य रिश्तेदार ने मिलकर षड्यंत्र के तहत की थी। पत्नी का आरोप है कि उसका पति उसके साथ काफी मारपीट करता था। उसको पति के किसी अन्य महिला से अवैध संबंध होने का शक था। पति की मारपीट से परेशान होकर उसने अपने भाइयों और अन्य रिश्तेदारों के साथ उसकी हत्या की साजिश रच डाली। मामले का पटाक्षेप करने वाली टीम को 10 हजार रुपये इनाम की घोषणा भी की है। इस मामले में धारा 120 बी भी बढ़ाई गई है।

गौरतलब है कि नाराहट थाना क्षेत्र के अंतर्गत हाइवे 44 पर गौना तिराहे की सड़क किनारे खड़ी बुलेरो में एक व्यक्ति का शव मिला था। पुलिस की पहचान में उसकी शिनाख्त मध्य प्रदेश सीमा से सटे सागर जिले के थाना मालथौन अंतर्गत ग्राम अटा निवासी पत्थर व्यवसाई अटा निवासी देवेंद्र सिंह राजपूत (45) के रूप में हुई थी और गाड़ी भी उसकी ही थी। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला मुख्यालय भिजवा दिया था। यह मामला हत्या और स्वभाविक मौत के बीच उलझा था। पोस्टमार्टम में स्पष्ट हुआ कि उसकी गला दबाकर हत्या की गई थी। जिसके बाद पत्नी नीतू राजपूत की तहरीर पर गांव के ही पप्पू परमार पुत्र राजा तथा दो अज्ञात के खिलाफ धारा 302, 201 में मामला पंजीकृत कर नामजद आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया गया था। उससे पूछताछ के बाद सारा माजरा खुलकर सामने आ गया।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned