मौत से बचकर भागे युवक ने ट्रेन के सामने लगाई छलांग, मौत

मौत से बचकर भागे युवक ने ट्रेन के सामने लगाई छलांग, मौत
Lalitpur Crime

Shatrudhan Gupta | Publish: Sep, 29 2017 08:23:16 PM (IST) | Updated: Sep, 29 2017 08:24:53 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

बहन के ससुराल पक्ष के लोगों की मारपीट और गोली से बच कर भागे युवक ने आखिरकार भय में आकर ट्रेन के सामने छलांग लगा दी।

ललितपुर. सुना था कि प्यार और जंग में सब जायज है, मगर यह भी सच है कि प्यार में लोग अपनी जान भी दे देते हैं। कुछ ऐसा ही मामला कोतवाली तालबेहट के अंतर्गत सामने आया है, जहां एक लड़का अपनी बहन की ससुराल में किसी लड़की से प्यार करता था और लड़की भी उसको चाहती थी। मगर यह बात लड़की के परिजनों को गवारा नहीं हुई। अपनी बहन की ससुराल में एक लड़की से मोहब्बत का अंजाम युवक की जान पर खत्म हुआ। बहन के ससुराल पक्ष के लोगों की मारपीट और गोली से बच कर भागे युवक ने आखिरकार भय में आकर ट्रेन के सामने छलांग लगा दी। मृतक के पास मिले सुसाइड नोट ने युवक की मौत से पर्दा उठा दिया।

जानकारी के अनुसार ग्राम रामपुर निवासी दीपेंद्र पुत्र रामसिंह अपनी बहन के ससुराल ग्राम भैंसबारी जिला टीकमगढ़ में एक युवती से प्रेम करता था। इस प्रेम की खबर जब प्रेमिका के परिजनों को हुई तो वह नजर रखने लगे। तीन दिन पूर्व वह अपनी बहन के घर गया था, जहां उसने अपनी प्रेमिका से मुलाकात की। उसी दौरान प्रेमिका के परिजनों ने पकड़कर युवक की जमकर पिटाई की और कमरे में बन्द कर अपमानित किया। बहन ने उसे किसी तरह उसे बचाया।

प्रेमिका के परिजनों ने किया फायर

प्रेमिका के परिजनों को जब उसकी इस प्रेम कहानी का पता चला तो वह आग बबूला हो गए और जैसे ही प्रेमी पर उनकी नजर पड़ी तो उन्होंने उसे पकड़ कर उसके साथ मारपीट की । इस बात की जानकारी जैसे ही उसकी बहन को हुई तो उसने जाकर किसी तरह अपने भाई को बचाया और जब वह वहां से भागने लगा तभी प्रेमिका के परिजनों ने उस पर गोली चला दी, जिससे बचकर वह किसी तरह भाग निकाल। शुक्रवार को प्रेम में अपमानित आहत युवक ने ट्रेन से कटकर आत्महत्या कर ली।

मृतक की जेब से निकले थे सुसाइड नोट

जैसे ही पुलिस को सूचना मिली कि रेलवे ट्रैक पर शव पड़ा हुआ है, वैसे ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और वहां से मृतक के शव को उठाकर उसकी शिनाख्त करवाने की कोशिश करने लगी। पुलिस ने जब उसकी जेब की तलाशी ली तो मृतक की जेब में मिले सुसाइड नोट में उसने अपने साथ हुई पूरी घटना तीन पत्रों में लिखी थी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned