अनिल अंबानी की कंपनी हुर्इ कंगाल, खाते में बचे केवल 19 करोड़ रुपए

अनिल अंबानी की कंपनी हुर्इ कंगाल, खाते में बचे केवल 19 करोड़ रुपए

Ashutosh Kumar Verma | Publish: Nov, 07 2018 11:20:50 AM (IST) | Updated: Nov, 08 2018 08:47:37 AM (IST) कॉर्पोरेट

दिल्ली हार्इ कोर्ट में जमा किए गए एक एफिडेविट में अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस कम्युनिकेशंस आैर उसकी र्इकार्इ रिलायंस टेलिकाॅम ने जानकारी दी है कि कंपनी के कुल 144 खातों में केवल 19.34 करोड़ रुपए ही बचे हैं।

नर्इ दिल्ली। अनिल अंबानी की मुश्किलें खत्म होने का नाम नहीं ले रही हैं। हाल ही में दिल्ली हार्इ कोर्ट में जमा किए गए एक एफिडेविट में अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस कम्युनिकेशंस आैर उसकी र्इकार्इ रिलायंस टेलिकाॅम ने जानकारी दी है कि कंपनी के कुल 144 खातों में केवल 19.34 करोड़ रुपए ही बचे हैं। अनिल अंबानी की नेतृत्व वाली इस कंपनी ने पिछले साल ही अपने वायरलेस आॅपरेशंस को पूरी तरह से बंद कर दिया था। फिलहाल कंपनी पर 46,000 करोड़ रुपए का कर्ज है। इसके साथ ही कंपनी के राजस्व में भी भारी कमी आर्इ है आैर घाटा लगातार बढ़ता जा रहा है। यह जानकारी अमरीकी टाॅवर काॅर्पोरेशन (एटीसी) द्वारा एक केस फाइल करने के दौरान दी गर्इ है। बाॅस्टन की इस कंपनी को अारकाॅम से 230 करोड़ रुपए वसूलने हैं।


एटीसी को आॅरकाॅम व आरटीएल से वसूलने हैं 230 करोड़ रुपए

चालू वित्त वर्ष में ही आरकाॅम दिवालिया होने से जैसे-तैसे बची थी। कंपनी ने दिल्ली हार्इकोर्ट में दी जानकारी में कहा है कि उसके पास 119 खातों में 17.86 करोड़ रुपए बचे हैं। जबकि दूसरी सब्सिडी र्इकार्इं आरटीएल के 25 खातों में 1.48 करोड़ रुपए शेष हैं। अक्टूबर माह में दाखिल किए एफिडेविट में दोनों कंपनियों ने कोर्ट से अपने बैंक स्टेटमेंट जमा करने के लिए कुछ समय मांगा है। इस केस की अगली सुनवार्इ 13 दिसंबर को होगी। टावर कंपनी ने दावा किया है कि आरकाॅम व आरटीएल से उसे एक्जिट फीस आैर सर्विस चार्ज के तौर पर 230 करोड़ रुपए लेने हैं।


1 नवंबर तक सुप्रीम कोर्ट ने लगाया था स्टे

गौरतलब है कि फरवरी माह में ही एटाीसी ने आरकाॅम व आरटीएल के खिलाफ कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। कंपनी ने यह केस अपना बकाया वसूलने के लिए दायर किया था। हालांकि, आरकाॅम को 1 नवबर तक सुप्रीम कोर्ट से एटीएसी के सभी बकाए पर स्टे मिल गया था। सुप्रीम कोर्ट में इस मामले की अगली सुनवार्इ की तारीख अभी तक तय नहीं हुर्इ है। एटीएस अनुपालन करने के आरोप में आरकाॅम के खिलाफ दिल्ली हार्इकोर्ट में केस दायर किया था।


पहले ही वित्तीय सकंट से गुजर रही कंपनी

बताते चलें घरेलू शेयर बाजार में भी आॅरकाॅम का प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा है। मंगलवार को कारोबार के दौरान कंपनी के शेयर्स में 1.8 फीसदी की गिरावट दर्ज की गर्इ जिसके बाद प्रति शेयर का भाव 13.81 रुपए प्रति शेयर पर बंद हुआ। इसके पहले ही कंपनी कर्इ अन्यू कानूनी कार्रवार्इयों को सामना कर रही है। बीते दिनों ही आरकाॅम द्वारा रिलायंस जियो इन्फोकाॅम से 18 हजार करोड़ रुपए के सौदे पर भी विवाद खड़ा हो गया था।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned