चंदा कोचर के खिलाफ सीबीआई ने जारी किया लुकआउट नोटिस, अब ईडी कर सकता है दंपत्ति से पूछताछ

चंदा कोचर के खिलाफ सीबीआई ने जारी किया लुकआउट नोटिस, अब ईडी कर सकता है दंपत्ति से पूछताछ

Saurabh Sharma | Publish: Feb, 22 2019 10:43:52 AM (IST) कॉर्पोरेट

  • सीबीआर्इ ने चंदा के खिलाफ जारी किया लुकआउट नोटिस।
  • 22 जनवरी को चंदा कोचर के खिलाफ सीबीआर्इ ने दर्ज की थी एफआईआर।
  • 1,875 करोड़ के लोन देने में हुए भ्रष्टाचार की आरोपी हैं चंदा कोचर।
  • चंदा कोचर आैर पति दीपक से पूछताछ कर सकती है र्इडी।

नई दिल्ली। वीडियोकॉन मामले में चंदा कोचर और उनके पति दीपक कोचर की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। सीबीआई ने कोचर दंपत्ति के साथ वीडियोकॉन के मैनेजिंग डायरेक्टर वेणुगोपाल धूत के खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी कर दिया है। जिसके बाद तीनों देश से बाहर नहीं जा सकेंगे। पिछले महीने जांच एजेंसी ने साल 2009 से 2011 के बीच वीडियोकॉन ग्रुप को बैंक से 1,875 करोड़ के छह लोन में कथित तौर पर भ्रष्टाचार के मामले उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी।

यह भी पढ़ेः- बढ़त को कायम नहीं रख सकता सेंसेक्स, 10781 पर पहुंचा निफ्टी

चंदा कोचर पर पहली बार जारी हुआ एलओसी
जानकारी के अनुसार सीबीआई के पिछले साल प्राथमिक जांच रिपोर्ट फाइल करने के बाद दीपक कोचर और वेणुगोपाल धूत के खिलाफ सभी एयरपोर्ट को लुकआउट सर्कुलर की जानकारी दी गई थी। अब इसे फिर से रिवाइव कर दिया गया है। चंदा कोचर के खिलाफ पहली बार लुकआउट नोटिस जारी किया गया है। सीबीआई ने 22 जनवरी चंदा कोचर के खिनाफ एफआईआर दर्ज की थी। जिसके बाद उन्हें भी इस दायरे में लाया गया है।

यह भी पढ़ेः- ट्विटर ने दिया बड़ा बयान, कहा-लोकसभा चुनाव हमारी प्रमुख प्राथमिकता

चंदा कोचर का नाम जोड़ा जाना ठीक नहीं
वहीं दूसरी ओर इस के जानकार वकील का कहना है कि सीबीआई को लुकआउट नोटिस जारी करने की कोई जरुरत नहीं थी। जिसका कारण का चंदा कोचर का प्रोफाइल। उन्होंने आगे जोड़ते हुए कहा कि इस मामले से पहले जो लोग गंभीर आर्थिक अपराध के आरोप के बाद देश से भाग गए उनके साथ चंदा कोचर का नाम जोड़ा जाना ठीक नहीं है। वहीं वह जानी मानी हस्ती होने के साथ उन पर जो आरोप लगे हैं वो अभी तक साबित नहीं हुए हैं।

यह भी पढ़ेः- पेट्रोल के दाम में 14 आैर डीजल के दाम में 15 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी

कोचर दंपत्ति से पूछताछ कर सकती है ईडी
वहीं दूसरी ओर इंफोर्समेंट डायरेक्टरेट मनी लॉन्ड्रिंग के केस में चंदा कोचर और उनके दीपक कोचर से पूछताछ सकती है। ईडी दीपक कोचर से उनकी कंपनियों के वीडियोकॉन ग्रुप के चेयरमैन वेणुगोपाल धूत के साथ रिश्तों के बारे में पूछताछ करना चाहता है। चंदा कोचर से आईसीआईसीआई बैंक की तरफ से वीडियोकॉन ग्रुप को दिए गए लोन के बारे में सवाल-जवाब किए जा सकते हैं। वहीं जांच एजेंसी कोचर दंपती की संपत्तियों के बारे में भी जांच कर सकती है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned