खतरे में है फेसबुक के मालिक मार्क जकरबर्ग की नौकरी, चेयरमैन पद से हटाना चाहते हैं ये लोग

खतरे में है फेसबुक के मालिक मार्क जकरबर्ग की नौकरी, चेयरमैन पद से हटाना चाहते हैं ये लोग

Ashutosh Kumar Verma | Updated: 18 Oct 2018, 12:34:44 PM (IST) कॉर्पोरेट

फेसबुक के प्रमुख निवेशकों समेत पब्लिक पेंशन फंड का मानना है कि मार्क जकरबर्ग को फेसबुक के चेयरमैन पद पर नहीं रहना चाहिए।

नर्इ दिल्ली। डेटा लीक प्रकरण के बाद फेसबुक के संस्थापक मार्क जकरबर्ग के लिए मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। इस कड़ी में अब उनके लिए फेसबुक के बड़े निवेशकों ने भी परेशानी खड़ी कर दी है। फेसबुक के प्रमुख निवेशकों समेत पब्लिक पेंशन फंड का मानना है कि मार्क जकरबर्ग को फेसबुक के चेयरमैन पद पर नहीं रहना चाहिए। हालांकि, निवेशकों का जकरबर्ग के चेयरमैन पद से हटने के प्रस्ताव को मुख्यतः सांकेतिक ही माना जा रहा है। लेकिन यह फेसबुक के लिए सबसे बड़ी परेशानी की बात यह है कि ये मामला एक एेसे समय पर सामने आया है जब फेसबुक डेटा सुरक्षा को लेकर पहले से ही कर्इ परेशानियों का सामना कर रहा है।


जकरबर्ग के पास है फेसबुक की 60 फीसदी हिस्सेदारी

फेसबुक के निवेशक इलियोनिस, रोड आइलैंड आैर पेन्सिवेनिया से स्टेट ट्रेजर्स एवं न्यू याॅर्क सिटी कंप्ट्रोलर स्काॅट स्ट्रिंगर ने यह प्रस्ताव रखा है। बता दें कि पिछले साल यानी 2017 में भी इसी तरह का एक प्रस्ताव लाया गया था जिसे बाद में खारिज कर दिया गया था। उस दौरान भी इनमें से तीन निवेशकों ने प्रस्ताव का समर्थन किया था। बता दें कि फेसबुक का अधिकतर शेयर कंपनी के संस्थापक मार्क जकरबर्ग के पास ही है जिस वजह से उनके खिलाफ बाहरी प्रस्ताव सांकेतिक बनकर रह जाते हैं। गत अप्रैल माह में कंपनी ने शेयर बाजार नियामक को जो जानकारी दी थी उसके मुताबिक जकरबर्ग के पास फेसबुक में 60 फीसदी की हिस्सेदारी है।


चेयरमैन पद से हटने से कायम हो सकता है निवेशकों का भरोसा

न्यू याॅर्क सिटी कंप्ट्रोलर स्काॅट स्ट्रिंगर ने अपने बयान में कहा, "हमें जरूरत है कि फेसबुक की इंसुलर बोर्डरूम वास्तविक जोखिमों को लेकर गंभीर रूप से प्रतिबद्ध रहे। इसके लिए एक स्वतंत्र बोर्ड चेयर की शख्त आवश्यकता है। अगर एेसा होता है तो कंपनी पर अमरीकी लोगों के साथ-साथ निवेशकों का भरोसा भी एक बार फिर से कायम हो सकेगा।" बता दें कि स्ट्रिंगर न्यू याॅर्क सिटी में 160 अरब डाॅलर के पेंशन फंड का देखभाल करती है। आपको याद दिला दें कि बीते साल कैंब्रिट एनालिटिका नाम की एक कंपनी ने पिछले अमरीकी चुनाव के दौरान फेसबुक डेटा का इस्तेमाल किया था। चुनाव को लेकर इस डेटा के गलत इस्तेमाल का खुलासा होने के बाद दुनियाभर में बवाल मच गया था।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned