अपनी गर्लफ्रेंड को इंप्रेस करने के चक्कर में इस CEO ने डुबा दिए 600 करोड़ रुपए, ये है पूरा मामला

अपनी गर्लफ्रेंड को इंप्रेस करने के चक्कर में इस CEO ने डुबा दिए 600 करोड़ रुपए, ये है पूरा मामला

Manish Ranjan | Publish: Sep, 30 2018 11:49:31 AM (IST) | Updated: Oct, 01 2018 04:42:14 PM (IST) कॉर्पोरेट

दुनिया की दिग्गज ऑटो कंपनी टेस्ला के मुखिया एलन मस्क आखिरकार चेयरमैन के पद से इस्तीफा देने को राजी हो गए हैं। लेकिन आपको ये जानकर हैरानी होगी कि ये सब इन्होंने अपने गर्लफ्रेंड को इंप्रेस करने के लिए किया।

नई दिल्ली। दुनिया की दिग्गज ऑटो कंपनी टेस्ला के मुखिया एलन मस्क आखिरकार चेयरमैन के पद से इस्तीफा देने को राजी हो गए हैं। साथ ही अमरीकी सिक्यॉरिटी ऐंड एक्सचेंज कमिशन (एसईसी) को 2 करोड़ अमरीकी डॉलर का जुर्माना भरने को तैयार हो गए हैं। दरअसल एलन मस्क पर आरोप है कि उन्होंने अपनी कंपनी को प्राइवेट करने संबंधित गलत ट्वीट्स किए थे, जिसके चलते निवेशकों के बीच भ्रम की स्थिति पैदा हुई। जिसके चलते एलन मस्क से इस्तीफा मांगा गया था, आपको बता दें कि एलन मस्क ने अपनी गर्लफ्रेंड को इम्प्रेस करने के लिए झूठ बोला कि वह 420 डॉलर प्रति शेयर के भाव पर निवेशकों से कंपनी के शेयर वापस खरीदेंगे।

क्यों मांगा गया इस्तीफा

आपको बता दें कि अमरीकी सिक्यॉरिटी ऐंड एक्सचेंज कमिशन यानी कि एसईसी ने संघीय अदालत में एलन के खिलाफ एक याचिका दायर की थी। जिसमें कहा गया था कि एलन मस्क ने टेस्ला को प्राइवेट बनाने के लिए फंडिंग की व्यवस्था हो जाने के संबंध में 7 अगस्त को ट्विटर पर गलत बयान दिया था। मस्क ने तब दावा किया था कि टेस्ला को प्राइवेट बनाने के लिए 420 डॉलर प्रति शेयर की दर से फंडिंग की व्यवस्था हो गई है। यह कीमत टेस्ला के शेयरों की तत्कालीन बाजार दर से काफी अधिक थी। मस्क के ट्वीट पर दिए इस बयान के बाद कंपनी के शेयरों में तेज उछाल गई। जिससे निवेशक समझ नही पा रहे थे कि उन्हें अब क्या करना चाहिए। अमरीकी सिक्यॉरिटी ऐंड एक्सचेंज कमिशन ने मस्क की ओर से ट्वीट किए बयान को गलत और भ्रामक करार दिया।

धोखाघड़ी का केस दर्ज

आपको बता दें कि एलन मस्क के बयान पर धोखाधड़ी का केस दर्ज कर दिया गया। मस्क ने असपर सफाई देते हुए पहले एक बयान में कहा कि यूएस सिक्यॉरिटीज ऐंड एक्सचेंज कमिशन की तरफ से की गई यह कार्रवाई तर्कसंगत नहीं है, इसने मुझे दुखी और निराश कर दिया है। मस्क ने कहा, 'मैंने हमेशा सत्य, पारदर्शिता और निवेशकों के बेहतर हित में कदम उठाए हैं। लेकिन अंत में मस्क ने कमीशन के फैसले को मानते हुए इस्तीफा देने को राजी हो गए।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned