Jio Platforms को छठे हफ्ते में मिला छठा Investor, UAE की Mubadala करेगी 9,093 करोड़ का Investment

  • Mubadala Investment JIO में 9,093.60 करोड़ रुपए का करेगी निवेश
  • Mubadala ने JIO की Equity Value आंकी 4.91 लाख करोड़ रुपए

By: Saurabh Sharma

Updated: 05 Jun 2020, 11:42 AM IST

नई दिल्ली। जियो प्लेटफॉर्म्स ( Jio Platforms ) में इंवेस्टमेंट के लिए विदेशी निवेशकों का तांता लगा हुआ है। उसे पिछले 6 हफ्तों में छठा बड़ा इंवेस्टमेंट मिला है। अबू धाबी की मुबाडला इंवेस्टमेंट कंपनी ( Mubadala Investment Company ) ने 1.85 प्रतिशत इक्विटी के लिए जियो प्लेटफॉर्म्स में 9,093.60 करोड़ रुपये का निवेश करने की घोषणा की है। रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ( Reliance Industries Limited ) ने शुक्रवार को इस बात की जानकारी दी।

Unlock में भी Lock हैं Petrol Diesel Price, जानिए क्या हैं आपके शहर में कीमत

जियो प्लेटफॉर्म्स में हो चुका है इतना इंवेस्ट
मुबाडला ने जियो प्लेटफॉर्म्स की इक्विटी वैल्यू 4.91 लाख करोड़ रुपये आंकी है। फेसबुक के इंवेस्टमेंट के साथ, जियो प्लेटफॉर्म्स में निवेश का जो सिलसिला शुरू हुआ था, वह थम नहीं रहा है। अब तक कुल 6 बड़े इंवेस्टर्स द्वारा जियो प्लेटफॉर्म्स में कुल 87,655.35 करोड़ रुपये का निवेश किया जा चुका है। सबसे पहले फेसबुक निवेश ले कर आया। उसके बाद विश्व के अग्रणी निवेशक सिल्वर लेक, विस्टा इक्विटी पार्टनर्स, जनरल अंटलांटिक एवं केकेआर और अब मुबाडला इंवेस्टमेंट कंपनी आई है।

मुकेश अंबानी ने कहा
रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने कहा कि मुझे खुशी है कि दुनिया की सबसे बेहतर और परिवर्तनकारी निवेशकों में से एक मुबाडला ने हमारे साथ पार्टनरशिप का फैसला किया है। वह भारत को डिजिटल राष्ट्र बनाने की हमारी यात्रा का हमसफर बनेंगे। उन्होंने आगे कहा कि अबू धाबी के साथ मेरे लंबे समय से संबंध हैं और मैनें देखा है कि यूएई की ज्ञान-आधारित अर्थव्यवस्था को दुनिया से जोडऩे और विविधता के रंग भरने में मुबाडाला ने जबरदस्त काम किया है। हम मुबाडाला के अनुभव से लाभान्वित होने के लिए तत्पर हैं।

Gas Cylinder फटने पर मिलता है 50 लाख रुपए का मुआवजा, जानिए कैसे करें क्लेम

मुबाडला की ओर से आया बयान
कंपनी ने अपने बयान में कहा कि रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड की फुली ओन्ड सब्सिडियरी जियो प्लेटफॉर्म्स एक नेक्स्ट जनरेशन टेक्नॉलोजी कंपनी है, जो भारत को एक डिजिटल सोसायटी बनाने के काम में मदद कर रही है। 38 करोड़ 80 लाख ग्राहक वाली रिलायंस जियो इंफोकॉम लिमिटेड जियो प्लेटफॉर्म्स लिमिटेड की 'ओन्ड सब्सिडियरी' बनी रहेगी। मुबाडला इन्वेस्टमेंट कंपनी के प्रबंध निदेशक और समूह के सीईओ खलदून अल मुबारक ने कहा कि हमने देखा है कि कैसे जियो ने भारत में संचार और कनेक्टिविटी को बदल दिया है और एक निवेशक और भागीदार के रूप में, हम भारत की डिजिटल विकास यात्रा को समर्थन देने लिए प्रतिबद्ध हैं।

Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned