Yes Bank Case : Supreme Court ने की DHFL Promoters वधावन बंधुओं की जमानत याचिका खारिज

  • धीरज वधावन और कपिल वधावन की अग्रिम जमानत की याचिका खारिज
  • वधावन बंधुओं को अप्रैल में यस बैंक घोटाले में सीबीआई ने किया था गिरफ्तार

By: Saurabh Sharma

Updated: 26 Jun 2020, 08:00 PM IST

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ( Supreme Court ) ने शुक्रवार को यस बैंक से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में डीएचएफएल के प्रमोटर ( DFHL Promoters ) धीरज वधावन और कपिल वधावन की अग्रिम जमानत की याचिका खारिज कर दी। इस मामले की जांच ईडी ( Enforcement Directorate ) कर रहा है। न्यायमूर्ति संजय किशन कौल और न्यायमूर्ति बीआर गवई की पीठ के सामने वधावन बंधुओं की ओर से पेश हुए अधिवक्ता ने कहा कि वह याचिका में किए गए अनुरोध के लिए अदालत पर जोर नहीं दे रहे हैं। इसके बाद पीठ ने इनकी याचिका खारिज कर दी।

Corona Vaccine आने से पहले ही क्या बोल गए Bill Gates, नहीं है कोई गारंटी

सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की याचिका
इससे पहले बम्बई हाईकोर्ट ने वधावन बंधुओं की अग्रिम जमानत पर विचार करने से इनकार कर दिया था, जिसके बाद उन्होंने हाईकोर्ट के फैसले को चुनौती देते हुए शीर्ष अदालत का रुख किया। ईडी का प्रतिनिधित्व कर रहे सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने पीठ के समक्ष दलील दी कि आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है और उनकी गिरफ्तारी से पहले की जमानत का अब कोई औचित्य नहीं है। इसके बाद शीर्ष अदालत ने याचिका को खारिज कर दिया।

आम लोगों की जेब पर आफत, सालभर में 20 फीसदी बढ़ी Subsidy gas cylinder की कीमत

जांच में नहीं कर रहे थे सहयोग
हाईकोर्ट ने गिरफ्तारी से पहले जमानत के लिए उनकी दलीलों को खारिज करते हुए कहा कि साजिश को उजागर करने के लिए उनसे पूछताछ आवश्यक है। यह देखा गया कि वे जांच में सहयोग नहीं कर रहे थे और ईडी ने पूछताछ करने के लिए उनकी उपस्थिति के लिए कई सम्मन जारी किए थे। हालांकि वधावन ने सम्मन का जवाब तो दिया, मगर वे ईडी के सामने पेश नहीं हुए।

बिना घर से बाहर निकले ही जुड़ जाएगा Ration Card में New Familly Member का नाम

600 करोड़ रुपये के भुगतान के आरोपों की जांच
वधावन को यस बैंक घोटाले के सिलसिले में एक अन्य मामले में सीबीआई द्वारा गिरफ्तार किया गया था। वहीं ईडी अलग से बैंक के पूर्व सीईओ राणा कपूर और उनके परिवार के सदस्यों द्वारा घोटाले वाली दागी डीएचएफएल से जुड़ी एक कंपनी द्वारा नियंत्रित 600 करोड़ रुपये के भुगतान के आरोपों की जांच कर रहा है। वधावन बंधुओं को अप्रैल में यस बैंक घोटाले के सिलसिले में सीबीआई ने गिरफ्तार किया था। जांच एजेंसियां कपूर के परिवार और डीएचएफएल के वधावन के बीच लेन-देन की भी जांच कर रही हैं।

Show More
Saurabh Sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned