ये चीजें भूल कर भी शेयर न करें महिलाएं, वरना...

क्या आप सहेली के मेकअप किट में नई चीज देखकर फटाफट उसे इस्तेमाल करने लगती हैं या फिर एक-दूसरे के मेकअप किट को शेयर करना आपकी आदत में ही शुमार हो गया है?

By: kamlesh

Published: 14 Apr 2017, 07:01 PM IST

क्या आप सहेली के मेकअप किट में नई चीज देखकर फटाफट उसे इस्तेमाल करने लगती हैं या फिर एक-दूसरे के मेकअप किट को शेयर करना आपकी आदत में ही शुमार हो गया है? तो हो जाएं सावधान वरना...



किसी दूसरे के मेकअप किट में ज्यादा महंगी क्लींजिंग डिवाइस देखकर आप उसे शेयर करने की गलती मत कीजिएगा। ऐसा करने से आप किसी दूसरे की डेड स्किन या फिर उसके चेहरे के ऑयल को अपने चेहरे तक ले आएंगी। किसी का स्पंज या फिर ब्रश यूज कर रही हैं तो पहले उसकी सफाई पर ध्यान दें  क्योंकि क्लींजिंग डिवाइस पर सबसे ज्यादा डेड स्किन या फिर जीवाणु चिपकते हैं। 


स्पंज या ब्रश शेयर करने से पहले इन्हें अच्छी तरह साबुन या फिर शैंपू से साफ करें, इन्हें गर्म पानी में कुछ देर तक भिगो कर रखें और फिर तेज धूप में सूखने के लिए रख दें। ऐसा करने से इनके अंदर मौजूद जीवाणु मर जाएंगे।



विभिन्न शोधों से पता चला है कि होंठों में होने वाले घाव या फिर  वायरस सीधे लिपस्टिक के संपर्क में आ जाते हैं और  होंठों पर फफोले या फिर घाव का कारण बन सकते हैं। कभी-कभार तो वायरस इतना फैल जाता है कि बुखार की स्थिति भी बन जाती है। 


स्किन सॉल्यूशन एक्सपर्ट एलिजाबेथ डोनट का मानना है कि दूसरे की लिपस्टिक का इस्तेमाल संक्रामक बीमारी का खतरा बढ़ा देता है। त्वचा रोग विशेषज्ञ सिपापोरा के अनुसार  यदि आप रोलर बॉल या स्पंज का इस्तेमाल होंठों पर कर रही हैं तो इससे दूसरे के मुंह के जीवाणु आपके शरीर में भी जा सकते हैं।



शोध कहते हैं कि कंजंक्टिवाइटिस आंखों में होने वाला सबसे आम संक्रमण है, जो गंदी सौन्दर्य सामग्री के कारण होता है। यदि आप किसी दूसरे के सौन्दर्य उत्पादों को आंखों में इस्तेमाल कर रही हैं तो अच्छी तरह साफ कर लें, सामग्री को पैक करके रखें, ताकि वे धूल-मिट्टी से बची रहें। एक्सपर्ट सिपापोरा के अनुसार, मस्कारा जीवाणुओं को एक आंख से दूसरी आंखों पर सबसे ज्यादा लेकर जाता है।



अक्सर देखने में आता है कि यदि दो लड़कियां एक ही बाथरूम शेयर कर रही हैं तो वे अपने रेजर को बाथरूम में छोड़ देती है, ऐसा करने से भी संक्रमण फैल सकता है। खासकर टब में इनका इस्तेमाल करने की स्थिति खतरनाक हो सकती है।


 रेजर के जरिए एक-दूसरे की त्वचा में वायरस फैल सकता है। यहां तक यदि नल पर भी कुछ रक्त कोशिकाएं लगी रह जाती हैं तो वे भी वायरस का खतरा पैदा कर देती हैं। ऐसे में रेजर की साफ-सफाई और उन्हें बाथरूम से अलग रखने की आदत डालें।


हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned