आज का राशिफल 15 मई 2019:मोहनी एकादशी पर शक्ति,धन,सम्मान के लिए कैसे करें गणेश व विष्णु पूजा, साथ ही वृषभ,कन्या,मीन राशिवालों के ग्रह क्या कहते हैं

आज का राशिफल 15 मई 2019:मोहनी एकादशी पर शक्ति,धन,सम्मान के लिए कैसे करें गणेश व विष्णु पूजा, साथ ही वृषभ,कन्या,मीन राशिवालों के ग्रह क्या कहते हैं

Hariom Dwivedi | Publish: May, 15 2019 05:00:00 AM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

मोहनी एकादशी पर गणेश और विष्णु पूजा का है अच्छा योग

Ritesh Singh

लखनऊ , बुधवार को ज्यादातर लोग भगवान् गणेश का मानते हैं जोकि कही कुछ सही भी हैं और नहीं भी लेकिन आज हम लोग बात करेंगे गणेश और विष्णु की पूजा से कैसे हम धन, सम्मान और शक्ति की प्राप्ति कर सकते हैं।

सुभाषितानि

गीता -: अर्जुनविषादयोग अo-01

निहत्य धार्तराष्ट्रान्न का प्रीतिः स्याज्जनार्दन ।, पापमेवाश्रयेदस्मान्‌ हत्वैतानाततायिनः ॥,

हे जनार्दन! धृतराष्ट्र के पुत्रों को मारकर हमें क्या प्रसन्नता होगी? इन आततायियों को मारकर तो हमें पाप ही लगेगा

Mohini Ekadashi का कब करे व्रत व पूजन मुहूर्त

पंडित शक्ति मिश्रा ने बतायाकि एकादशी के दिन ब्रह्म मुहूर्त में उठकर स्नानादि करने के बाद स्वच्छ वस्त्र धारण करें उसके बाद कलश स्थापना कर भगवान विष्णु की पूजा शुरू करें उसके बाद दिन में मोहिनी एकादशी व्रत कथा का पाठ करें व सुनें उसके बाद रात्रि के समय श्री हरि का स्मरण करें और भजन कीर्तन करते हुए जागरण करें साथ दूसरे दिन एकादशी व्रत का पारण कर ले। पारण से पहले ब्राह्मण व जरूरतमंद भोजन खिलाएं और दान दे। यह सब अपने सामर्थ के अनुसार करें।


Mohini Ekadashi की कथा

पंडित शक्ति मिश्रा ने बतायाकि एक कथा कही जाती है। सरस्वती नदी के रमणीय तट भद्रावती नाम की सुंदर नगरी है। वहां धृतिमान नामक राजा जो चन्द्रवंश में उत्पन और सत्यप्रतिज्ञ थे वह राज्य करते थे। उसी नगर में एक वैश्य रहता था जो धनधान्य से परिपूर्ण समृद्धिशाली था उसका नाम धनपाल था वह सदा पुन्यकर्म में ही लगा रहता तथा दूसरों के लिए प्याऊ, कुआँ, मठ, बगीचा, पोखरा और घर बनवाया करता। भगवान विष्णु की भक्ति में उसका मन हमेशा खोया रहता था । उसके पाँच पुत्र सुमना, द्युतिमान, मेधावी, सुकृत तथा धृष्ट्बुद्धि। धृष्ट्बुद्धि पांचवा था। वह सदा गलत कामो में लिप्त रहता था । वह वेश्याओं से मिलने के लिये हमेशा लालायित रहता और अन्याय के मार्ग पर चलकर पिता का धन बरबाद किया करता।

एक दिन उसके पिता ने तंग आकर उसे घर से निकाल दिया और वह दर दर भटकने लगा। इसी प्रकार भटकते हुए भूख-प्यास से व्याकुल वह महर्षि कौण्डिन्य के आश्रम जा पहुँचा। शोक के भार से पीड़ित वह मुनिवर कौण्डिन्य के पास गया और हाथ जोड़ कर बोला हे ब्रह्मन द्विजश्रेष्ट मुझ पर दया करके कोई ऐसा व्रत बताइये जिसके पुण्य के प्रभाव से मेरी मुक्ति हो।

कौण्डिन्य बोले वैशाख शुक्ल पक्ष में Mohini Ekadashi का व्रत करो। Mohini Ekadashi का उपवास करने पर मनुष्यों के अनेक जन्मों के किए हुए महापाप भी नष्ट हो जाते हैं। मुनि का यह वचन सुनकर धृष्ट्बुद्धि का चित्त प्रसन्न हो गया। उसने कौण्डिन्य के उपदेश से विधिपूर्वक 'मोहिनी एकादशी' का व्रत किया। इस व्रत के करने से वह निष्पाप हो गया और दिव्य देह धारण कर गरुड़ पर आरूढ़ हो सब प्रकार के उपद्रवों से रहित श्रीविष्णुधाम को चला गया। पंडित शक्ति मिश्रा ने कहाकि इस प्रकार से 'मोहिनी' एकादशी का व्रत बहुत उत्तम है। इसके पढने और सुनने से सहस्त्र गोदान का फल मिलता है।

क्या हैं Mohini Ekadashi का महत्व

पंडित शक्ति मिश्रा ने बतायाकि पौराणिक कथा के अनुसार समुद्र मंथन हुआ तो अमृत प्राप्ति के बाद देवताओं व असुरों में आपाधापी मच गई थी।उन्होंने बतायाकि ताकत के बल पर देवता असुरों को हरा नहीं सकते थे इसलिए भगवान विष्णु ने मोहिनी का रूप धारण कर असुरों को अपने मोह माया के जाल में फांसकर सारा अमृत देवताओं को पिला दिया जिससे देवताओं ने अमरत्व प्राप्त किया। इस कारण इस एकादशी को Mohini Ekadashi कहा गया।

गणेश और विष्णु पूजा का है अच्छा योग मिलेगा मनचाहा फल

पंडित शक्ति मिश्रा ने कहाकि आज के दिन Mohini Ekadashi की पूजा करने से पहले भगवान गणेश की पूजा सबसे पहले करें पुरे विधिविधान के साथ उसके बाद भगवान् विष्णु की माता लक्ष्मी के साथ ऐसा करने से आप को इसके जल्द ही शुभ फल मिलने लगेंगे।

दैनिक राशिफल

देशे ग्रामे गृहे युद्धे सेवायां व्यवहारके।
नामराशेः प्रधानत्वं जन्मराशिं न चिन्तयेत्।।
विवाहे सर्वमाङ्गल्ये यात्रायां ग्रहगोचरे।
जन्मराशेः प्रधानत्वं नामराशिं न चिन्तयेत ।।

मेष (Aries)

किसी आनंदोत्सव में भाग लेने का अवसर प्राप्त होगा। स्वादिष्ट भोजन का आनंद प्राप्त होगा। विद्यार्थी वर्ग अपने कार्य में सफलता प्राप्त करेगा। किसी यात्रा का कार्यक्रम बन सकता है। बहस में न पड़ें। प्रेम-प्रसंग में सफलता प्राप्त होगी। व्यापार लाभदायक रहेगा।

वृष (Taurus)

किसी तरह की शारीरिक पीड़ा की आशंका है। दु:खद समाचार प्राप्त हो सकता है। वाणी पर नियंत्रण रखें। नकारात्मकता रहेगी। काम में मन नहीं लगेगा। बेकार की बातों पर ध्यान न दें। भागदौड़ रहेगी। आय बनी रहेगी।

मिथुन (Gemini)

किसी तरह से धनहानि की आशंका है। सावधान रहें। थोड़े प्रयास से कार्यसिद्धि होगी। लोगों की सहायता कर पाएंगे। सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। पुरुषार्थ सिद्धि होगी। आय होगी। निवेश लाभदायक रहेगा।

कर्क (Cancer)

भूले-बिसरे साथियों से मुलाकात हो सकती है। शुभ समाचार प्राप्त होंगे। आत्मविश्वास में वृद्धि होगी। व्यापार-व्यवसाय अच्छा चलेगा। निवेश से लाभ होगा। नौकरी में सहकर्मी साथ देंगे। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी।

सिंह( Leo )

किसी बड़ी समस्या का हल सहज ही प्राप्त होगा। बेरोजगारी दूर करने की इच्छा पूर्ण होगी। अप्रत्याशित लाभ हो सकता है। सट्टे व लॉटरी से दूर रहें। नौकरी में प्रभाव बढ़ेगा। निवेश शुभ रहेगा। भाग्य अनुकूल है। प्रसन्नता रहेगी।

कन्या (Virgo)

कोई बड़ा खर्च हो सकता है। आर्थिक स्थिति बिगड़ सकती है। किसी व्यक्ति से अकारण विवाद हो सकता है। चिंता तथा तनाव रहेंगे। भावना में बहकर कोई निर्णय न लें। व्यापार-व्यवसाय ठीक चलेगा। निवेश में जल्दबाजी न करें।

तुला (Libra)

लेनदारी वसूली के लिए शुभ समय है, प्रयास करें। सफलता मिलेगी। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। नए काम मिलेंगे। व्यापार-व्यवसाय अच्छा चलेगा। भाग्य का साथ रहेगा। पारिवारिक चिंता रहेगी। प्रसन्नता रहेगी। निवेश में जल्दबाजी न करें।

वृश्चिक (Scorpio)

कमजोर तबके के लोगों की सहायता कर पाएंगे। सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। कारोबार अच्छा चलेगा। नए काम मिलेंगे। काफी समय से अटके काम पूर्ण होंगे। नई योजना बनेगी। कार्यप्रणाली में सुधार होगा। लाभ होगा।

धनु ( Sagittarius)

किसी धार्मिक कार्य में भाग लेने का अवसर प्राप्त हो सकता है। कोर्ट व कचहरी के कार्यों में सफलता प्राप्त होगी। धन प्राप्ति के प्रयास सफल रहेंगे। व्यापार-व्यवसाय अच्छा चलेगा। दूसरे के कार्य में हस्तक्षेप न करें। निवेश में जल्दबाजी न करें।

मकर ( Capricorn )

वाहन व मशीनरी के प्रयोग में लापरवाही न करें। क्रोध व उत्तेजना पर नियंत्रण आवश्यक है। अड़ियलपना हानि देगा। विवेक का प्रयोग करें। व्यापार-व्यवसाय ठीक चलेगा। नौकरी में अधिकारियों की अपेक्षाएं बढेंगी। आय बनी रहेगी।

कुंभ (Aquarius)

दांपत्य जीवन सुखमय रहेगा। कानूनी अड़चन दूर होगी। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। कारोबार में मनोनुकूल स्थिति रहेगी। निवेश से लाभ होगा। पारिवारिक सहयोग मिलेगा। छोटी-मोटी यात्रा हो सकती है। बुद्धि का प्रयोग करें। लाभ होगा।

मीन (Pisces)

भूमि व भवन इत्यादि की खरीद-फरोख्त लाभदायक रहेगी। बेरोजगारी दूर करने के प्रयास सफल रहेंगे। निवेश लाभदायक रहेगा। नौकरी में प्रभाव बढ़ेगा। व्यस्तता रहेगी। घरेलू कार्यों पर व्यय होगा। प्रसन्नता रहेगी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned