script150 feet laxman ji statue will be installed on banks of gomti river | गोमती नदी किनारे विराजेगी श्रीराम के भाई लक्ष्मण की प्रतिमा, 150 फीट होगी ऊंचाई | Patrika News

गोमती नदी किनारे विराजेगी श्रीराम के भाई लक्ष्मण की प्रतिमा, 150 फीट होगी ऊंचाई

भगवान श्री लक्ष्मण की प्रतिमा बनाने में लगभग 15 करोड़ का खर्च आएगा और इसका नाम भगवान श्री लक्ष्मण प्रेरणा स्थल रखा गया है।

लखनऊ

Published: May 08, 2022 04:05:18 pm

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) को जल्द ही एक और पहचान मिलने वाली है। यहां हिंदू संगठन (Hindu Organization) की मांग के बाद गोमती नदी (Gomti River) के किनारे झूलेलाल वाटिका (Jhulelal Vatika) के पास भगवान श्री लक्ष्मण की प्रतिमा स्थापित की जाएगी, जो 150 फीट ऊंची होगी। इससे शहरवासियों को अब भगवान श्रीराम के छोटे भाई लक्ष्मण की प्रतिमा का दीदार(Lord Laxmana Statue) करने के मौका मिलेगा। हालांकि ये प्रतिमा अयोध्या में स्थित भगवान राम की मूर्ति (Lord Sri Ram Statue In Ayodhya) से छोटी और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की मूर्ति (ऊंचाई 25 फीट) से बड़ी होगी। इसे बनाने में लगभग 15 करोड़ का खर्च आएगा और इसका नाम भगवान श्री लक्ष्मण प्रेरणा स्थल (Lord Shri Laxman Inspiration Sthal) रखा गया है। मूर्ति निर्माण के लिए लखनऊ नगर निगम कार्यकारिणी समिति ने बजट को पास कर दिया और महापौर संयुक्ता भाटिया ने भी इसे मंजूरी दे दी गई है।
8711_lakshman.jpg
ये भी पढ़ें: बिना परीक्षा सरकारी नौकरी का सुनहरा मौका, ITDC ने निकाली बंपर भर्ती, तुरंत अप्लाई करें

टीले वाली मस्जिद के सामने प्रतिमा को स्थापित करने की थी मांग

गौरतलब है कि अयोध्या में भगवान श्रीराम के मंदिर का निर्माण कार्य शुरू होने से पहले ही लखनऊ में भगवान श्रीलक्ष्मण की प्रतिमा स्थापित करने की मांग की जा रही थी। उस वक्त टीले वाली मस्जिद के सामने प्रतिमा को स्थापित करने की मांग की गई थी। क्योंकि हिंदू संगठनों और संतों का कहना था ये रिकार्ड में लक्ष्मण का टीला के नाम से दर्ज है और इसी स्थान पर प्रतिमा को लगाया जाना चाहिए। हालांकि दूसरी तरफ महापौर संयुक्ता भाटिया ने साफ कर दिया था कि पुराने लखनऊ के लक्ष्मण टीला स्थान पर लक्ष्मण की प्रतिमा नहीं लगाई जाएगी। क्योंकि यहां लगाने को लेकर पूर्व में विवाद हो चुका है। लेकिन अब नगर निगम ने जगह का चयन कर लिया है। इसके साथ ही इसका बजट भी पारित हो गया है।
ये भी पढ़ें: KVS Admissions 2022: केंद्रीय विद्यालयों में एडमिशन के नियम बदले, सोर्स सिफारिश खत्म, आसानी से मिलेगा दाखिला

मुस्लिम संगठनों और धर्मगुरुओं ने किया था विरोध

गौरतलब है कि लखनऊ में लक्ष्मण की प्रतिमा का प्रस्ताव रखने का प्रस्ताव बीजेपी के पार्षद रामकृष्ण यादव ने रखा था कि प्रतिमा को टीले वाली मस्जिद के पास स्थापित करना चाहिए। क्योंकि आज भी उस स्थान को लक्ष्मण के टीले के नाम से जाना जाता है। उनका का दावा था कि लक्ष्मण का टीला भूमि अभिलेखों में भी दर्ज है। उनका कहना था कि सभी जानते हैं कि लखनऊ को लक्ष्मण के नाम पर बसाया गया था। बीजेपी के दिवंगत नेता लालजी टंडन ने अपनी किताब में टीले वाली मस्जिद के स्थान को प्राचीन लक्ष्मण टीला होने का दावा किया था। लेकिन नगर निगम के इस प्रस्ताव के बाद मुस्लिम संगठनों और धर्मगुरुओं का विरोध करना शुरू कर दिया था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Amravati Murder Case: उमेश कोल्हे की हत्या का मास्टरमाइंड नागपुर से गिरफ्तार, अब तक 7 आरोपी दबोचे गए, NIA ने भी दर्ज किया केसमोहम्‍मद जुबैर की जमानत याचिका हुई खारिज,दिल्ली की अदालत ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजाSharad Pawar Controversial Post: अभिनेत्री केतकी चितले ने लगाए गंभीर आरोप, कहा- हिरासत के दौरान मेरे सीने पर मारा गया, छेड़खानी की गईIndian of the World: देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस को यूके पार्लियामेंट में मिला यह पुरस्कार, पीएम मोदी को सराहाGujarat Covid: गुजरात में 24 घंटे में मिले कोरोना के 580 नए मरीजयूपी के स्कूलों में हर 3 महीने में होगी परीक्षा, देखे क्या है तैयारीराज्यसभा में 31 फीसदी सांसद दागी, 87 फीसदी करोड़पतिकांग्रेस पार्टी ने जेपी नड्डा को BJP नेता द्वारा राहुल गांधी से जुड़ी वीडियो शेयर करने पर लिखी चिट्ठी, कहा - 'मांगे माफी, वरना करेंगे कानूनी कार्रवाई'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.