आकाशीय बिजली गिरने से 16 लोगों की मौत

आकाशीय बिजली गिरने से 16 लोगों की मौत

Ashish Kumar Pandey | Publish: Sep, 02 2018 08:39:48 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

बाढ़ में घिरे हजारों लोग सुरक्षित स्थानों पर पलायन के लिए मजबूर हैं।

 

 लखनऊ. उत्तर प्रदेश में बारिश का कहर जारी है। सूबे में पिछले 24 घंंटों के दौरान आकाशीय बिजली गिरने से 16 लोगों की मौत हो गई। आकाशीय बिजली की चपेट में आने से सबसे अधिक शाहजहांपुर में 6 लोग काल के गाल में समा गए। वहीं सीतापुर में 3, अमेठी, उन्नाव और औरैया में 2-2 लोगों समेत एक अन्य व्यक्ति की मौत हो गई। वहीं लागातार हो रही बारिश से कई जिलों में कई कच्चे मकान भरभरा कर गिर गए, जिसमें कई लोगों की मौत हो गई। उधर, मौसम विभाग ने दो-तीन दिनों तक भारी बारिश की आशंका जताई है।
उत्तर प्रदेश के अधिकतर जिलों में रुक-रुक कर लगातार हो रही भारी बारिश के कारण दो दर्जन जिले बाढ़ की चपेट में हैं। अधिकतर नदियां उफान पर हैं। वहीं बारिश के दौरान आकाशीय बिजली गिरने से सूबे में 16 लोगों की मौत हो गई है। बिजली गिरने से सबसे अधिक शाहजहांपुर में 6 लोग काल के गाल में समा गए। वहीं सीतापुर में ३, अमेठी, उन्नाव और औरैया में 2-2 लोगों की मौत हो गई। गुरुवार से शुरू हुई बारिश का सिलसिला रुक-रुक कर रविवार को भी जारी रहा। अधिकतर नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। बाढ़ ने कई जिलों में ऐसी तबाही मचा रखी है जहां गांव के गांव तबाह हो चुके हैं। बाढ़ में घिरे हजारों लोग सुरक्षित स्थानों पर पलायन के लिए मजबूर हैं।

गंगा, घाघरा, शारदा, राप्ति आदि नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। बहराइच, गोंडा, बाराबंकी, सीतापुर, लखीमपुर-खीरी, हरदोई, फर्रुखाबाद, सुल्तानपुर, फैजाबाद, अयोध्या समेत कई जिलों में बाढ़ ने तबाही मचा रखी है। राजधानी लखनऊ समेत सीतापुर, हरदोई, गोंडा, अयोध्या, फैजबाद, कानपुर, फर्रुखाबाद आदि जिलों में रविवार को भी रुक-रुक कर बारिश होती रही।

वहीं जालौन के काल्पी तहसील के चुर्खी थाना क्षेत्र के ग्राम अटरा कला में मानसिंह के कच्चे मकान की दीवार बारिश के कारण ढह गई। दीवार ढहने से वहां पर खड़े मानसिंह का 2 साल पुत्र युवराज और उसकी तीन साल की पुत्री श्रृष्टि चपेट में आ गई, जिससे दोनों की मौत हो गई। उधर, श्रावस्ती जिले के गिलौला इलाके तेज बारिश के चलते कच्चे मकान की दीवार भरभराकर गिर गई, जिससे घर में सो रहे एक महिला और दो बच्चों की दीवार के नीचे दबकर मौत हो गई और एक महिला गंभीर घायल हो गई।

नदियां उफान पर
प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में हो रही बारिश के चलते अधिकतर नदियां उफनाई हुई हैं। लखीमपुर खीरी के पलियाकलां में शारदा का जलस्तर 1 मीटर 80 सेमी ऊपर है तो वहीं घाघरा अयोध्या में खतरे के निशान से 40 सेमी, बाराबंकी के एल्गिनब्रिज पर 66 सेमी ऊपर बह रही है।
गोंडा के चंद्रदीपघाट पर कुआनो नदी का जलस्तर खतरे के निशान से 51 सेमी ऊपर है। राज्य के बाढ़ नियंत्रण कक्ष के अनुसार गंगा नदी का जलस्तर फतेहगढ़, कन्नौज के गुमटिया, कानपुर देहात के अंकिनघाट, कानपुर नगर में बढऩे के आसार हैं।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned