200 अवैध होर्डिंग लखनऊ नगर निगम द्वारा हटाए गए

अवैध होर्डिंग्स न केवल लखनऊ की छवि को खराब कर रहे थे, बल्कि आम आदमी के लिए भी खतरा थे क्योंकि उनमें से ज्यादातर सड़क के मोड़ पर लगाए गए थे। लखनऊ के अलीगंज जानकीपुरम और नगर निगम के जोन तीन से जुड़े क्षेत्रों में 2267 होर्डिंग समेत ऐसे एड्स पाए गए हैं जो अवैध तरह से लगे थे और उनका शुल्क ही नगर निगम में जमा नहीं हो रहा था।

By: Mahima Soni

Published: 14 Sep 2021, 06:30 PM IST

लखनऊ. नगर निगम द्वारा विशेष अभियान के तहत शहर के विभिन्न कोनों से लगभग 200 अवैध होर्डिंग, खोखे, पोस्टर, बैनर और होर्डिंग हटाए गए।
अवैध होर्डिंग न केवल शहर की छवि को खराब कर रहे थे, बल्कि आम आदमी के लिए भी खतरा थे क्योंकि उनमें से ज्यादातर सड़क के मोड़ पर लगाए गए थे। इन होर्डिंग्स को हटाते समय एलएमसी कर्मचारियों को लोगों के कड़े विरोध का सामना करना पड़ा। नगर आयुक्त अजय द्विवेदी ने कहा, 'ये सभी होर्डिंग एलएमसी की अनुमति के बिना लगाए गए थे और मानदंडों का उल्लंघन कर रहे थे। एलएमसी शहर में बढ़ते जमाखोरी के खतरे के प्रति चुपचाप नहीं बैठ सकती|

नगर आयुक्त ने माना कि अभी भी सैकड़ों अवैध होर्डिंग हैं जिन्हें हटाया जाना बाकी है|

अजय द्विवेदी ने कहा, 'उसके लिए, मैंने इस सप्ताह एक विशेष अभियान का आह्वान किया है।' एलएमसी हर तरफ से आने वाले दबाव के बावजूद सभी अवैध होर्डिंग्स को हटाने के लिए प्रतिबद्ध है। ऐसा माना जा रहा है की शहर में अवैध होर्डिंग्स का बाजार लंबे समय से फल-फूल रहा है क्युकी इसे स्थानीय राजनेताओं और अधिकारियों का संरक्षण प्राप्त है।

अलीगंज, जानकीपुरम और नगर निगम के जोन तीन से जुड़े क्षेत्रों में 2267 होर्डिंग समेत ऐसे एड्स पाए गए हैं, जो अवैध तरह से लगे थे और उनका शुल्क ही नगर निगम में जमा नहीं हो रहा था। होर्डिंग, ट्री गार्ड और बैनर से पटे इस इलाके में चल रहे घपले से नगर निगम को ही अधिकारी और कर्मचारी चूना लगा रहे थे। यह किसी एक जोन का उदाहरण हो सकता है लेकिन जब इन लगे एड्स की जांच की गई तो कई करोड़ रुपये का घपला सामने आया है। मतलब विज्ञापन एजेंसियां और निजी कंपनियां प्रचार तो कर रहीं थीं, लेकिन उसका शुल्क नगर निगम में आधा अधूरा ही जमा हो रहा था।

यह भी पढ़ें - मूर्तियों के माध्यम से सिल्चर के मूर्तिकार रंजीत मंडल राम कथा कुञ्ज के लिए कर रहे हैं मूर्तियों का निर्माण

Mahima Soni
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned