Teachers Day : किसी ने ऑनलाइन और अंग्रेजी का डर भगाया तो इन्होंने दी रक्तदान की प्रेरणा

Teachers Day : उत्तर प्रदेश के तीन शिक्षकों को मिला राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने किया सम्मानित

By: Hariom Dwivedi

Published: 05 Sep 2020, 04:57 PM IST

लखनऊ. शिक्षक दिवस (Teachers Day) पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने देश के 47 शिक्षकों को राष्ट्रीय अध्यापक पुरस्कार 2020 से सम्मानित किया। इनमें 18 शिक्षिकाएं हैं। मानव संसाधन विकास मंत्रालय से जारी हुई नेशनल अवार्ड टीचर्स की लिस्ट में उत्तर प्रदेश के तीन शिक्षक मोहम्मद इशरत, विकास कुमार और स्नेहिल पांडे हैं, जिन्हें सम्मानित किया गया। कोरोना महामारी के चलते सभी को ऑनलाइन अवार्ड दिये गये। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सम्मानित शिक्षकों व शिक्षिकाओं को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि यह प्रतिष्ठित पुरस्कार आप सभी की प्रतिबद्धता तथा अथक मेहनत का परिणाम है। आप सभी ने शिक्षा के स्तर में अपनी गुणवत्ता को बढ़ाकर अपने-अपने विषयों को इतना रुचिकर बनाया कि बड़ी संख्या में विद्यार्थी इससे लाभांवित हुए। कठिन समय में भी आप सभी ने मेहनत कर बच्चों को विश्वास को लगातार बढ़ाया।

मोहम्मद इशरत अली, मैनपुरी
बेहतर शिक्षण कार्य के लिए मैनपुरी के शिक्षक मोहम्मद इशरत अली को राष्ट्रीय अध्यापक पुरस्कार 2020 के लिए चुना गया है। वह सुल्तानगंज विकास खंड के प्राथमिक विद्यालय रजवाना में प्रधानाध्यापक के पद पर कार्यरत हैं। इशरत अली पिछले कई साल से बच्चों को तकनीकी शिक्षा के साथ ही बच्चों को व्यवहारिक ज्ञान भी दे रहे हैं। खेलने के लिए भी बच्चों को प्रेरित कर रहे हैं।

विकास कुमार, मुजफ्फरनगर
विद्यालय में बच्चों की संख्या बढ़ाना हो या फिर ऑनलाइल शिक्षा में दक्षता, मुजफ्फरनगर के सनातन धर्म इंटर कॉलेज, मीरापुर के प्रधानाचार्य विकास कुमार को सबमें अग्रणी रहे। इसके लिए उन्हें राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार से सम्मानित किया गया। अध्यापन के साथ-साथ वह लगों को जल संरक्षण और रक्तदान के लिए भी प्रेरित करते रहे।

स्नेहिल पाण्डेय, उन्नाव
उन्नाव जिले के नवाबगंज ब्लॉक के अंग्रेजी माध्यम प्राथमिक स्कूल की प्रधान शिक्षिका स्नेहिल पांडेय को राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार 2020 से सम्मानित किया गया। स्नेहिल पाण्डेय ने गांव के स्कूल में अंग्रेजी विषय को अपनी शैली से काफी आसान तथा रुचिकर बनाया। यहां के बच्चे अब अंग्रेजी पढ़ने से भागते नहीं हैं और फर्राटेदार अंग्रेजी बोलते हैं।

73 शिक्षकों को राज्य अध्यापक पुरस्कार
उत्तर प्रदेश के अलग-अलग जिलों में शिक्षा की अलख जगा रहे 73 शिक्षिक-शिक्षिकाओं को राज्य अध्यापक पुरस्कार से सम्मानित किया गया। अलग-अलग खूबियों की वजह से राज्य के 73 शिक्षकों को राज्य अध्यापक पुरस्कार के लिए चयनित किया था। इनमें हाथरस और कौशाम्बी जिलों का नाम नहीं शामिल है। इस पुरस्कार के तहत राज्य सरकार की तरफ से एक प्रशस्ति पत्र, अंगवस्त्रम, स्मृति चिन्ह व 25 हजार रुपए नगद व 2 वर्षों का सेवा विस्तार शामिल है।

यह भी पढ़ें : प्रदेश के इन टीचर्स ने अपने प्रयासों से बदला हवा रुख, मिला बड़ा सम्मान

Show More
Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned