69 हजार शिक्षकभर्ती में दिव्यांग आरक्षण मामले की अगली सुनवाई 11 नवंबर को

अदालत ने गत बृहस्पतिवार को आदेश देते हुए मामले की अगली सुनवाई 11 नवंबर को नियत की है।

By: Abhishek Gupta

Published: 23 Oct 2020, 09:54 PM IST

लखनऊ. हाईकोर्ट की लखनऊ पीठ ने 69 हजार शिक्षक भर्ती मामले में दिव्यांग अभ्यर्थियों को 4 फीसदी आरक्षण लाभ दिए जाने की याचिका पर दिए गए आदेश में कहा कि याचिका में उठाए गए मुद्दे की विषय वस्तु के सम्बन्ध में पक्षकारों( राज्य सरकार व अन्य) द्वारा की गई कोई कार्यवाही याचिका के अन्तिम परिणाम या कोर्ट के अग्रिम आदेशों के अधीन होगी। इस मामले में राज्य सरकार की तरफ से जवाबी हलफ़नामा पेश किया जा चुका है।

न्यायमूर्ति राजन राय ने यह आदेश याची राम किशोर व कई अन्य दिव्यांग अभ्यर्थियों की याचिका पर दिया। याचियों का कहना था कि सहायक अध्यापकों के लिए हो रही शिक्षक भर्ती में शारीरिक रूप से विकलांग अभ्यर्थियों को नियमानुसार 4 प्रतिशत का आरक्षण लाभ दिया जाना चाहिए। याचियों की ओर से अधिवक्ता का आरोप था कि इस भर्ती में कानून व नियम के अनुसार चार प्रतिशत का विकलांग आरक्षण लाभ मिलना चाहिए, लेकिन सरकार व सम्बंधित विभाग विकलांग लोगों की अनदेखी कर रहे हैं। उधर, सरकारी वकील ने कहा था कि जवाब के लिए एक हफ्ते का और समय दिया जाए और यह आश्वासन भी अदालत को दिया था कि हफ्ते भर में जवाबी हलफ़नामा दाखिल कर दिया जाएगा। अदालत ने गत बृहस्पतिवार को उक्त आदेश देते हुए मामले की अगली सुनवाई 11 नवंबर को नियत की है।

Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned