कई साल से देख रही थी गंदा होते शहर, इस बड़े मंगल दिया स्वच्छता का सन्देश

   कई साल से देख रही थी गंदा होते शहर, इस बड़े मंगल दिया स्वच्छता का सन्देश
Bada Mangal

जब 'भक्तों' ने किया शहर गंदा तो 70 साल की बुज़ुर्ग महिला ने उठाया झाड़ू

लखनऊ। एक ओर स्वच्छता की रेटिंग के बाद सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उनके मंत्रियों ने सफाई की ज़िम्मेदारी उठाई थी। शहर में कूड़े के निस्तारण को लेकर जहां प्रस्ताव और योजनाएं तैयार हो रही थीं वही पहले ही बड़े मंगल पर शहर की रूप रेखा बदलने लगी। लेकिन इसी बीच राजधानी में स्वच्छता को लेकर कुछ लोगों में जागरूकता भी दिखी।



शहर में हज़ारों की संख्या में भंडारों का आयोजन तो हुआ लेकिन इससे शहर गन्दा भी हुआ। कही कूड़े दान ही गायब रहे तो कही कूड़ेदान दोपहर तक ही भर गए। जो आता गया प्लास्टिक के डोंगे और ग्लास वही फेकता गया। हालांकि ये कुछ नया नहीं है। हर साल  हम आप ये दृश्य देखते हैं और सफाई व्यवस्था के लिए सरकारी तंत्र को दोषी बता सब नज़रअंदाज़ कर देते हैं। 

देखें वीडियो -

इन सब से अलग दृश्य दिखा डालीगंज में। यहां जहां लोग प्रसाद ग्रहण करने में व्यस्त थे वही दूसरी ओर 70 साल की
महिला एक हाथ में झाड़ू लिए 'भक्तों' द्वारा फैलाई गन्दगी को साफ करने में जुट गयी। उनके साथ कुछ और लोग भी मौजूद रहे जो सफाई में उनका हाथ बाटा रहे थे। इन लोगों ने लगभग 10 भंडारों के स्थान पर जाकर सफाई की।

http://img.patrika.com/upload/images/2017/05/16/BM-1494936922.jpg

डॉ रेखा तिवारी स्वास्थ विभाग में डायरेक्टर पद से रिटायर्ड हैं। उन्होंने कहा की वे कई साल से देख रही थी लोग बड़े मंगल पर भंडारा तो करते हैं लेकिन उसके चलते फैली गन्दगी को साफ़ नहीं करते। उन्होंने और उनके सहयोगी (अनुपमा शुक्ला और अनूप) रिवर बैंक  कॉलोनी में रहते हैं। इन सब ने मिलकर ये निर्णय लिया की इस बार वे अपनी आस्था शहर को साफ़ रख कर दिखाएंगे। वे कहती है की अपने शहर को साफ़ करना कोई गलत बात नहीं। जो लोग गन्दगी फैलाते है उन्हें ये सोचना चाहिए। हम अपनी आदतें सुधारेंगे तभी शहर और यहां के हालत बदलेंगे।

बहरहाल हम साफ़ शहर का सपना तो देखते हैं लेकिन इस ओर कदम बढ़ाने में हिचकिचाते हैं। हमें भी ये सोचने की ज़रुरत है कि शहर की प्रति हमारी ज़िम्मेदारियाँ क्या हैं।


खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned