scriptAaj ka panchang 27 noveber 2021 aaj ka shubh muhurat aaj ka rahukaal | Aaj ka panchang: पंचांग 27 नवंबर, जानिए आज का शुभ मुहुर्त और राहुकाल | Patrika News

Aaj ka panchang: पंचांग 27 नवंबर, जानिए आज का शुभ मुहुर्त और राहुकाल

Aaj Ka Panchang: 27 नवंबर, संवत 2078, मार्गशीर्ष कृष्ण पक्ष अष्टमी तिथि। शनिवार के दिन पीपल के नीच हनुमान चालीसा पढ़ने और गायत्री मंत्र का जाप करने से भय नहीं लगता है और समस्त बिगड़े काम बनने लगते हैं।

लखनऊ

Published: November 26, 2021 11:23:35 pm

Aaj Ka Panchang: 27 नवंबर, संवत 2078, मार्गशीर्ष कृष्ण पक्ष अष्टमी तिथि। शनिवार के दिन पीपल के नीच हनुमान चालीसा पढ़ने और गायत्री मंत्र का जाप करने से भय नहीं लगता है और समस्त बिगड़े काम बनने लगते हैं।
panchang_1.jpg
आज क्या करें क्या न करें

आज के दिन पूर्व दिशा की यात्रा नहीं करना चाहिए यदि यात्रा करना ज्यादा आवश्यक हो तो घर से अदरक खाकर जायें। इस तिथि में नारियल नहीं खाना चाहिए तथा यह तिथि आभूषण, रत्न खरीदने और धारण करने के लिए शुभ है।
आज के शुभ मुहूर्त

अभिजीत मुहूर्त – 11.33AM से 12.15PM तक

अमृत काल मुहुर्त – 07.13PM से 08.53PM तक

विजय मुहूर्त – 01.40PM से 02.23PM तक

गोधूलि बेला – 05.02PM से 05.26PM तक
निशीथ काल – 11.28PM से 00.21 AM (28 नवंबर) तक

शुभ योग

रवि योग – नहीं

गुरु पुष्य योग - नहीं

सर्वार्थ सिद्धि योग – नहीं

अमृत सिद्धि योग – नहीं
द्विपुष्कर योग – नहीं

त्रिपुष्कर योग – नहीं

आज के अशुभ मुहूर्त-

गुलिक काल – 06.35AM से 07.55AM तक

यमगंड – 01.14PM से 02.33PM तक

दुर्मुहूर्त – 1. 06.35AM से 07.17AM तक
2. 07.17AM से 08.00AM तक

भद्रा - नहीं

आज का राहुकाल

लखनऊ- 09.14AM से 10.34AM तक

वाराणसी – 09.05AM से 10.25AM तक

गोरखपुर – 09.05AM से 10.24AM तक
प्रयागराज – 09.09AM से 10.30AM तक

कानपुर – 09.16AM से 10.36AM तक

आगरा - 09.26AM से 10.46AM तक

मथुरा - 09.28AM से 10.47AM तक

दिल्ली - 09.31AM से 10.50AM तक
चंड़ीगढ़ - 09.35AM से 10.53AM तक

भोपाल - 09.25AM से 10.47AM तक

राहु काल क्या है?

राहु काल या राहु कलाम दिन का सबसे प्रतिकूल समय है, जब कुछ भी शुभ करते हैं, तो कभी भी अनुकूल परिणाम नहीं देते हैं। ज्योतिषी हमेशा शुभ मुहूर्त की गणना करते हुए, दिन के इन 90 मिनटों को छोड़ देते हैं।
यमगंडम का क्या अर्थ है या यमगंड काल?

यमगंडम का अर्थ है मृत्यु का समय, या मौत का समय। यमगंडम मुहूर्त के दौरान केवल मृत्यु अनुष्ठान और समारोह किए जाते हैं। इस समय में शुरू की गई कोई भी गतिविधि कार्य या उससे जुड़े अन्य पहलुओं को निराश करती है। इसलिए, यमगंडम मुहूर्त के दौरान की गई गतिविधियाँ विफलता में समाप्त होती हैं या अंतिम परिणाम अक्सर बहुत अनुकूल नहीं होता है। हमेशा सलाह दी जाती है कि इस दौरान धन या यात्रा से संबंधित महत्वपूर्ण गतिविधियाँ शुरू न करें।
राहु काल समय में क्या करें?

नया व्यवसाय या आयोजन शुरू करने के लिए राहु काल को शुभ नहीं माना जाता है। हालांकि, शुभ मुहूर्त में पहले से शुरू होने वाली दैनिक गतिविधियों को जारी रखने में कोई समस्या नहीं है। राहु काल में नहीं की जाने वाली चीजों में शामिल हैं- विवाह संस्कार, गृहप्रवेश, पूजा और अनुष्ठान, एक नया व्यवसाय शुरू करना, और अन्य शुभ कार्य।
जब आप राहु काल के दौरान किसी शुभ घटना से बच नहीं सकते तो क्या करें?

ऐसी स्थितियों में जब आप राहु काल के दौरान महत्वपूर्ण कार्यों को करने से बच नहीं सकते हैं, तो यह सलाह दी जाती है कि भगवान हनुमान को पंचामृत और गुड़ अर्पित करें और हनुमान चालीसा का पाठ करें। शुभ काम शुरू करने से पहले इस प्रसाद का सेवन करने से राहु के हानिकारक प्रभाव दूर रहेंगे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

शिवराज सरकार के मंत्री ने राष्ट्रपिता को बताया फर्जी पिता, तीन पूर्व पीएम पर भी साधा निशानाकर्नाटकः पूर्व सीएम बीएस येदियुरप्पा की पोती का फांसी पर लटका मिला शव, जांच में जुटी पुलिसNeoCov: ओमिक्रॉन के बाद सामने आया कोरोना का नया वैरिएंट 'नियोकोव' और भी खतरनाकDCGI ने भारत बायोटेक को इंट्रानैसल बूस्टर डोज के ट्रायल की दी मंजूरी, 9 जगहों पर होंगे परीक्षणAkhilesh Yadav और शिवपाल यादव को हराने के लिए मायावती के प्लान B का खुलासाUP Election 2022: सत्ता पक्ष और विपक्ष का पश्चिमी यूपी साधने पर पूरा जोर, नेता घर-घर जाकर मांग रहे हैं वोटUP Assembly Elections 2022 : आजम खान के बेटे अब्दुल्ला को हत्या का डर, बोले- सुरक्षाकर्मी ही मुझे मार सकते हैं गोलीPariksha Pe Charcha 2022 : रजिस्ट्रेशन की तारीख 3 फरवरी तक बढ़ाई, जानिए कैसे करें अप्लाई
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.