यूनिवर्सिटी और डिग्री कालेजों के लिए शैक्षिक कैलेंडर जारी, अनिवार्य होगी सेमेस्टर, वार्षिक और अर्ध वार्षिक परीक्षाएं

Academic calendar released for universities and degree colleges- उत्तर प्रदेश के विश्वविद्यालयों और डिग्री कालेजों के लिए शैक्षिक कैलेंडर जारी कर दिए गए हैं। विवि और महाविद्यालयों में अब सेमेस्टर, वार्षिक और अर्ध वार्षिक परीक्षाएं कराना अनिवार्य होगा।

By: Karishma Lalwani

Published: 11 Sep 2021, 04:03 PM IST

लखनऊ. Academic calendar released for universities and degree colleges. उत्तर प्रदेश के विश्वविद्यालयों और डिग्री कालेजों के लिए शैक्षिक कैलेंडर जारी कर दिए गए हैं। विवि और महाविद्यालयों में अब सेमेस्टर, वार्षिक और अर्ध वार्षिक परीक्षाएं कराना अनिवार्य होगा। उच्च शिक्षा विभाग द्वारा निर्देश दिए गए हैं कि कोरोना या फिर अन्य वजह से शिक्षण दिवस कम हो रहे हैं तो शिक्षक अतिरिक्त कक्षाएं या ऑनलाइन पढ़ाई कराकर सत्र नियमित करा सकते हैं। उच्च शिक्षा की अपर मुख्य सचिव मोनिका एस गर्ग ने निदेशक उच्च शिक्षा, कुलसचिव राज्य विश्वविद्यालय व कुलपति निजी विश्वविद्यालयों को निर्देश दिया है कि वे शैक्षिक कैलेंडर के अनुसार पढ़ाई व परीक्षाएं कराएं। छात्रों को उच्च शिक्षा की डिजिटल लाइब्रेरी व अन्य ऑनलाइन माध्यमों से अध्ययन करने के लिए प्रेरित करें, ताकि कम समय में शिक्षण पूरा हो सके।

शीतावकाश हो सकता निरस्त

अपर मुख्य सचिव ने लिखा है कि कोरोना महामारी के कारण लंबे समय तक संस्थानों के बंद रहने से सत्र अनियमित हो गया है। इसे नियमित करने के लिए छात्र हित में सत्र सामान्य होने तक विश्वविद्यालय व महाविद्यालयों में शीतावकाश निरस्त किया जा सकता है। जरूरत के हिसाब से 15-15 दिन का ग्रीष्मावकाश देते हुए दो बार में 50 प्रतिशत शिक्षकों को शिक्षण संस्थान बुलाया जा सकता है। 31 मार्च 2023 सत्र नियमित होने तक शिक्षक व शिक्षणेतर कर्मियों को बहुत जरूरी होने पर ही लंबा अवकाश मिलेगा।

ये भी पढ़ें: सरकारी नौकरी में बंपर भर्तियां, 174 रिक्त पदों की भर्ती के लिए एक अधिसूचना जारी, शुरू हुई आवेदन प्रक्रिया

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned