प्रवासी नागरिक को पैदल, अवैध व असुरक्षित वाहन से यात्रा न करने दिया जाए :अवनीश अवस्थी

9 लाख 50 हजार लोगों को या तो ले आए हैं या लाने वाले हैं

By: Ritesh Singh

Published: 16 May 2020, 07:40 PM IST

लखनऊ, मुख्यमंत्री ने आज ओरैया में जो घटना हुई है उसपर संवेदना व्यक्त करते हुए सभी वरिष्ठ अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि किसी भी प्रवासी नागरिक को पैदल या अवैध या असुरक्षित वाहन से यात्रा न करने दिया जाए औरैया हादसे के बाद उत्तर प्रदेश की योगी सरकार का बड़ा फैसला।उत्तर प्रदेश की सीमा में पैदल, दो पहिया वाहन या ट्रक से किसी भी व्यक्ति के प्रवेश पर पाबंदी प्रवासियों को जिले के क्वॉरेंटाइन सेंटर या शेल्टर होम में भेजा जाए शेल्टर होम भेजने के लिए निजी व स्कूल बसों की व्यवस्था करने के दिए गए निर्देश।

प्रवासी मजदूरों को लेकर आ रही ट्रेन के लिए रेलवे स्टेशन पर स्वास्थ्य विभाग की टीमें रहे तैनात सभी जिलों के नोडल अधिकारियों को मुख्य सचिव ने दिए गए निर्देश उत्तर प्रदेश की सीमा से सटे जिलों के डीएम और एसपी को चीफ सेक्रेटरी का आदेश पैदल या निजी गाड़ी से आ रहे प्रवासी मजदूरों को बॉर्डर पर रोका जाए।प्रत्येक बॉर्डर पर 200 बसें बॉर्डर के जिलों में व्यवस्थित की गई है, जिनसे लोगों को लाने-ले जाने की व्यवस्था की जा सकती है.आज लगभग 76 ट्रेन आनी हैं, 286 ट्रेनों की सहमति और दी गई है, इनको भी जोड़ दिया जाए तो लगभग 9 लाख 50 हजार लोगों को या तो ले आए हैं या लाने वाले हैं

Show More
Ritesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned